Friday , December 15 2017

नॉएडा शेल्टर होम्स में बाइबिल ना पढने की वजह से बच्चों को बुरी तरह पीटा

पुलिस ने एमानुएल सेवा ग्रुप द्वारा चलाये जा रहे नॉएडा और मेरठ के शेल्टर होम्स से 30 बच्चों को छुडा लिया . ये बच्चे ग़रीब ख़ानदान से ताल्लुक़ रखते हैं और इलज़ाम है कि उनको ज़बरदस्ती इसाई बनाया गया.

पुलिस ने शेल्टर होम्स पे तब छापा मारा जब एक माँ ने अपने 9 साला बच्चे के साथ हो रही ज़्यादतियों के सिलसिले में शिकायत दर्ज कराई.
रिपोर्ट के मुताबिक़ 9 साला बच्चे ने दावा किया कि उन्हें बाइबिल न पढने की वजह से बुरी तरह से मारा गया और कई रोज़ भूके रक्खा गया.

बच्चे ने आगे कहा कि “हम महीने में सिर्फ़ एक ही बार अपने वालदैन से मिल सकते थे. हमें सिर्फ बाइबिल पढ़ाई जाती थी. उन्होंने हमसे ज़बरदस्ती बाइबिल के कुछ हिस्से याद करने को कहा गया “

लड़के ने कहा कि “जब भी कोई मिलने आता था वो हमें अच्छे कपडे देते थे, वो हमें लाइन में खडा करते थे और बाइबिल के पैसेज याद करने को कहते थे. ऐसा न करने पर हमें बुरी तरह से मारा पीटा जाता था. और जैसे ही मेहमान चले जाते थे, हमसे कपडे, मिठाइयां और दुसरे तोहफ़े छीन लिए जाते थे.”
पुलिस मुआमले की तहक़ीक़ात कर रही है.

TOPPOPULARRECENT