Friday , December 15 2017

साजिश के तहत 500 और 1000 के नोट बंद किए गए। – केजरीवाल

नई दिल्ली। देश में नोटबंदी के खिलाफ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मोर्चा खोल दिया है। गुरुवार को दोनों ने आजादपुर मंडी में रैली की और सरकार की मंशा पर सवाल उठाए। केजरीवाल ने पूछा कि सरकार 2000 रुपये के नोट बाजार में लाकर भ्रष्टाचार पर आखिर कैसे रोक लगा सकती है।

उन्होंने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि देश में हर तरफ अफरा-तरफी का माहौल है। बाजार में दूध, सब्जी, दवा नहीं मिल रही हैं। अगर सरकार का ये कदम भ्रष्टाचार के खिलाफ होता, तो हम भी साथ होते। हम भ्रष्टाचार पर राजनीति नहीं करते हैं। मोदी जी ने सर्जिकल स्ट्राइक की, मैंने उन्हें किया था सलाम।
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इल्ज़ाम लगाते हुए कहा कि नोटबंदी की आड़ में आजाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला हुआ। लाख करोड़ का घोटाला हुआ है। 2000 रुपये के नोट से भ्रष्टाचार कैसे रुकेगा? 2000 के नोट खुलेआम बिक रहे हैं। केजरीवाल ने यह भी कहा कि साजिश के तहत 500 और 1000 के नोट बंद किए गए।

बैंकों ने बड़े लोगों को 8 लाख करोड़ का कर्ज दिया। सरकार ने बड़े लोगों का 114000 करोड़ का कर्ज माफ किया। जनता के पैसे से अरबपतियों को माफ कर दिया। शराब कारोबारी विजय माल्या पर 8 हजार करोड़ का कर्ज था। उन्होंने कहा कि मोदी जी ने उन्हें विदेश भेज दिया।

TOPPOPULARRECENT