Friday , January 19 2018

नोटबंदी के खिलाफ प्रदर्शन करने पर मनीष सिसोदिया हुए गिरफ्तार

दिल्ली: आम आदमी पार्टी के दो वरिष्ठ नेता उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और कपिल मिश्रा को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया. वे अपने समर्थकों के साथ मोदी के नोटबंदी के फैसले के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

जनसत्ता के अनुसार, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और कपिल मिश्रा दोनों अपने-अपने समर्थकों के साथ नोटबंदी के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए संसद की तरफ आ रहे थे. इससे पूर्व सिसोदिया ने नजफगढ़ के उस परिवार से मुलाकात की थी जिसके एक सदस्य की मौत बैंक की लाइन में लगे-लगे हो गई थी. उपमुख्यमंत्री ने पीएम मोदी के फैसले की निंदा करते हुए ट्विटर पर लिखा था, ‘मोदी जी आप कहते हो नोटबंदी से आम आदमी चैन की नींद सोएगा. आँख खोलकर देखिए – वो मौत की नींद सो रहा है. रोज़ाना लोग मर रहे हैं. जिन लोगों ने आपको 25-40 करोड़ दिए उन सबके नोट बदल दिए गए. और आप आंसू बहा रहे हैं. फैसला लीजिए मोदी जी.
बता दूं कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी ट्वीट के जरिये नोटबंदी के फैसले पर मोदी पर निशाना साधते हुए कहा रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) द्वारा शादी वाले परिवार के लिए 2.5 लाख रुपए निकालने के लिए जो नई गाइडलाइन बनाई हैं इसमें अगर ‘सालियों को जूता चुराई के रुपए देंगे तो सालियों की लिस्ट बैंक को दें और साबित करें कि सालियों का बैंक अकाउंट हैं या नहीं. वरना सालियां रसीद देंगी’
गौरतलब है कि मोदी सरकार द्वारा 8 नवंबर को नोटबंदी का ऐलान किया गया था. उसमें बताया गया था कि 500 और 1000 के नोट 30 दिसंबर 2016 के बाद से नहीं चलेगी. इसके साथ ही 2000 और 500 रुपए के नए नोटों के आने की जानकारी भी दी गई थी. तब से ही बैंक और एटीएम के बाहर लोगों की लाइन खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. लोग अपने नोट बदलवाने के लिए बैंकों के चक्कर काटने को मजबूर हैं. जिससे रोजाना लोगों की मुसीबत बढती ही जा रही है.

TOPPOPULARRECENT