Thursday , December 14 2017

नोटबंदी के दौर में स्याही लगाने के फैसले पर बोलीं ममता बनर्जी, कहा: ‘सरकार को जनता पर भरोसा नहीं’

एक तरफ जहाँ सरकार द्वारा नोटबंदी किये जाने के बाद से जनता वैसे ही बेहाल है वहीँ अब एक बार बैंक से पैसा ले चुके लोगों को स्याही लगाने के फैसले से परेशानी और बढ़ गई है। लोगों की इसी परेशानी को देखते हुए ममता बनर्जी ने नोटबंदी मुद्दे को लेकर सरकार पर निशाना साधा है और कहा कि नोट बदलवाने पर उंगली पर स्याही का निशान लगाने का मतलब है कि सरकार को आम जनता पर भरोसा नही हैं।

गौरतलब है कि सरकार ने बैंकों में से पैसा ले जा चुके लोगों की उंगली पर स्याही से निशान लगाने का फैसला लिया है ताकि कोई भी शख्श एक से ज्यादा बार पैसा न निकलवा सके।

इस बारे में बोलते हुए देश में आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने प्रेस कान्फ्रेंस में इस बात का ऐलान किया कि कुछ लोग लगातार नोट बदलवाने के लिए लाइन में लगे हुए हैं जिसकी वजह से नए लोगों को नोट नहीं मिल पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने इस बात को गंभीरता से लिया है इसलिए अब जो कोई भी नोट बदलवाने के लिए बैंक पहुंचेगा उसकी ऊँगली पर स्याही लगाई जाएगी ताकि वह दोबारा नोट बदलवाने न पहुंच सके।

TOPPOPULARRECENT