Thursday , June 21 2018

नोटबंदी के बाद शराबबंदी भी लागू करने नीतीश कुमार की मांग

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नोटबंदी पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की एक बार फिर समर्थन करते हुए आज कहा कि नोटबंदी के बाद अब बेनामी संपत्ति को जब्त करने के साथ ही पूरे देश में शराबबंदी लागू करनी चाहिए ताकि देश को भ्रष्टाचार और काले धन की तरह शराब‌ मुक्त कराया जा सके।

कुमार ने यहां शराबबंदी दिवस के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि हम ध्यान करने के पक्षधर हैं लेकिन केंद्रीय ज्ञान को लोगों को होने वाली परेशानियों का भी ध्यान रखना चाहिए। यह मेरी निजी राय है कि नोटबंदी से दो नंबर का धंधा बंद हुआ है। भ्रष्टाचार और काले धन पर लगाम लगाने के लिए देश भर में जो भी कोशिश की जाएगी में उसका समर्थन करूंगा।

मैं प्रधानमंत्री से अनुरोध करूंगा कि बिहार जैसे बड़े राज्य में हम शराबबंदी लागू की है वह उसे देश भर में लागू करें क्योंकि शराब व्यापार भी अवैध व्यापार को बढ़ावा देता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि केवल नोटबंदी से काम नहीं चलेगा। उन्होंने प्रधानमंत्री से बेनामी संपत्ति जब्त करने की प्रक्रिया शुरू करने की भी अपील की।

उन्होंने जोर देकर कहा कि नोटबंदी, बेनामी संपत्ति और शराब व्यापार पर लगाम लगाने से ही देश भ्रष्टाचार और काले धन से पूरी तरह मुक्त हो सकेगा। श्री कुमार ने नोटबंदी की वजह से होने वाले चौतरफा हमले के विरोध में समर्थन करते हुए कहा कि जो हमें अच्छा लगता है हम करते हैं। भले ही लोग इसका अलग राजनीतिक मतलब निकालते रहें।

TOPPOPULARRECENT