Saturday , December 16 2017

नोटबंदी पर रूस ने कड़ा किया रुख, कहा भारतीय राजदूतों के साथ हो सकती है ‘बदले की कार्यवाही’

नई दिल्ली : रूस ने भारत सरकार द्वारा उठाए गए नोटबंदी के कदम पर अपना रुख कड़ा करते हुए   धमकी भरे अंदाज़ में कहा है कि भारतीय राजदूतों के साथ ‘बदले की कार्यवाही’ की जा सकती है|

रूस की सरकार इस बात का विरोध कर रही है कि भारत सरकार ने उनके राजदूतों पर हफ्ते में 50 हजार रुपए निकालने की लिमिट लगा दी है। जिससे उनके राजदूतों को काफी परेशानी हो रही है| मॉस्को के कुछ सूत्रों ने दो दिसंबर को कहा था कि विरोध जताने के लिए उनकी तरफ से भारतीय राजनयिक को समन भी किया जा सकता है|

एनडीटीवी की खबर के मुताबिक, रूस की सरकार ने बताया कि राजदूत एलेक्सजेंडर कदाकिन ने नोटबंदी से हो रही परेशानी के लिए विदेश मंत्रालय को एक पत्र लिखा है और फिलहाल उसके जवाब का इंतजार कर रहे हैं| खबर के मुताबिक, राजदूत ने सवाल किया कि इतने पैसों में कैसे काम चलेगा। एलेक्सजेंडर कदाकिन ने अपने पत्र में नोटबंदी से हो रही परेशानी का जिक्र किया है | उन्होंने लिखा है कि लिमिट इतनी कम है कि एक अच्छा सा डिनर का बिल भी नहीं भरा जा सकता| रूस के दिल्ली में बने दूतावास में लगभग 200 के करीब लोग रहते हैं| उन्होंने आगे सवाल किया कि इतने पैसों में दिल्ली में इतना बड़ा दूतावास कैसे काम करेगा? रूस के दिल्ली में बने दूतावास में लगभग 200 के करीब लोग रहते हैं।

इससे पहले पाकिस्तान के उच्चायुक्त ने भी नोटबंदी से हो रही परेशानी का जिक्र किया था|  गौरतलब है 8 दिसंबर को कि मोदी सरकार ने नोटबंदी का एलान किया था|  2000 और 500 के नए नोट लाने के एलान के साथ बताया गया था कि 30 दिसंबर के बाद 500 और 1000 के नोट चलने बंद हो जाएंगे। हालांकि, लोगों के पैसे निकालने और जमा करवाने के लिए कुछ पाबंदी लगाई गई हैं जिनके नियम में सरकार वक्त-वक्त पर बदलाव कर रही है |

 

TOPPOPULARRECENT