नोटबंदी: बैंक की लाइन में खड़ी महिला ने दिया बच्चे को जन्म

नोटबंदी: बैंक की लाइन में खड़ी महिला ने दिया बच्चे को जन्म
Pregnant woman enjoying the nature

कानपुर। कानपुर देहात के झींझक गांव में एक महिला को कैश के लिए मुश्किलों का सामना करना पड़ा। दरअसल महिला गर्भवती थी, लेकिन घर में कैश नहीं थे, इसलिए उसे मजबूरी में बैंक की कतार में लगना पड़ा।नकदी निकालने के लिए मंगलपुर गांल की सर्वेशा नाम की महिला कतार में खड़ी हुई, लेकिन लंबे वक्त तक खड़े रहने की वजह से उसे प्रसव पीड़ा शुरु हो गई। कानपुर देहात के पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी के मुताबिक महिला ने बैंक की कतार में ही बच्चे को जन्म दिया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

वन इंडिया की खबरों के अनुसार एक गर्भवती महिला शुक्रवार की दोपहर जब उसे पीड़ा हुआ तो महिला ने बैंक अधिकारियों को इसकी जानकारी दी लेकिन वे मदद के लिए आगे नहीं आए। महिला 12 बजे कतार में खड़ी हुई और 4 बजे तक खड़ी रही। जिसके बाद उसे प्रसव पीड़ा शुरु हो गया। हलांकि दोनों मां-बच्चे बिल्कुल स्वस्थ हैं। बैंक के पास मौजूद महिलाओं ने उसकी मदद की, जिसके बाद पंजाब नेशनल बैंक की शाखा के भीतर उसे ले जाया गया।
जब पुलिस तक इस बात की जानकारी पहुंची तो उन्होंने फौरन जच्चा-बच्चा को अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस अधीक्षक के मुताबिक दोनों बिल्कुल स्वस्थ हैं। बैंक के बाहर मौजूद लोगों ने बैंक अधिकारियों पर आरोप लगाया कि उन्होंने महिला की मदद नहीं की।
उल्लेखनीय है कि नोटबंदी के बाद लोगों को कैश के लिए बैंकों की लाइन में खड़े रहना पड़ रहा हैं। बैंक के बाहर घंटों खड़े रहने के बाद आपका नंबर आता है। बुजुर्गों और महिलाओं को खासी मुश्किलें हो रही है।

Top Stories