Sunday , September 23 2018

नोटबंदी से बेंगलोर का पर्यटन हुआ बुरी तरह प्रभावित

नोटबंदी का बेंगलोर के पर्यटन पर गहरा असर पड़ा है। नवम्बर और दिसंबर में राज्य में सबसे ज़्यादा लोग घूमने आते थे। लेकिन नोटबंदी की वजह से यहां का पर्यटन घट ता नज़र आ रहा हूं, होटल की बुकिंग को निरस्त किया जा रहा है।

पिछले साल 10 नवंबर से 27 नवम्बर तक कर्नाटक स्टेट टूरिज्म डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन के अंतर्गत लगभग 2,484 कमरे बुक किये गए थे। इस साल उसी समय कमरों की संख्या घट कर 1,735 हो गयी है। द गोल्डन चेरियट पर्यटकों के लिए बनाई आरामदायक ट्रैन को भी इस साल काफी घटा हुआ है। यह ट्रेन कर्नाटक, गोवा, केरल, तमिलनाडु में चलती है जिसमे विदेशी पर्यटक सवार होते हैं।

केएसटीडीसी के प्रबंधक डायरेक्टर कुमार पुष्कर का कहना है कि पर्यटन उद्दोग पर नोटबंदी का काफी असर हुआ है। मकानों सफारी की बुकिंग में कटौती हुई है। हालाँकि यह मौसम लोगो के बाहर घूमने का हुआ करता था औ इसी मौसम में हमारा सबसे ज़्यादा फायदा होता था।

पर्यटन मंत्री प्रियंका खड़गे का भी यही कहना है कि बिना किसी योजना के घोषित की गयी नोटबंदी यात्रियों के लिए भारी पड़ रही है।
विदेशी पर्यटनों पर इसका प्रभाव ज़्यादा है कयुनकी वो लोग पैन कार्ड और आधार कार्ड ना होने की वजह से नोट बदल भी नहीं सकते। और इसके बारे में विदेशी मंत्रालय की वेबसाइट पर भी कोई सूचना नहीं है। सबसे महत्वपूर्ण यह है कि जो लोग हमारे देश में घूमने आते है उन लोगो को गलत संदेश जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT