Monday , September 24 2018

नोटबंद करने के खिलाफ जबरदस्त विरोध केंद्र सरकार को माकपा नेता येचुरी की चेतावनी

तिरुवनंतपुरम: नोटों को रद्द पर‌ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ आक्रामक तेवर अपनाते हुए माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने आज कहा कि वह तय नहीं कर सकते कि देश की जनता किस तरह से जीवन गुजारें और चेतावनी दी कि सरकार के अस्वीकार्य कदम के खिलाफ जनता सड़कों पर उतर आएंगे।

सीपीएम ने येचुरी के हवाले से एक पत्रकारिता बयान में कहा कि संविधान के अनुसार जनता ही मुख्तार कल क्योंकि संविधान की शुरुआत हम भारतीय जनता से होती है और प्रधानमंत्री तय नहीं कर सकते कि जनता कैसे जीवन गुज़ार रही है। यह हरगिज़ स्वीकार्य नहीं है और उसके खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किया जा सकता है।

केरल की राजधानी में नोटबंद‌ करने के कदम के खिलाफ लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट (एल डी एफ) द्वारा आयोजित एक दिवसीय धरना को संबोधित करते हुए सीताराम येचुरी ने आरोप लगाया कि केंद्र जल्दी यथार्थवादी निर्णय से राज्य सरकारों को अपूरणीय नुकसान उठाना पड़ रहा है।

उन्होंने बताया कि माकपा नीत केरल और त्रिपुरा की सरकारें केंद्र से नुकसान की भरपाई की मांग पर गैर भाजपा सरकारों को एकजुट करने की कोशिश करेंगे।

TOPPOPULARRECENT