Thursday , November 23 2017
Home / Delhi / Mumbai / नोटों के परिवर्तन के लिए राहुल भी कतार में खड़े हो गए, जनता को सख्त समस्याओं की शिकायत

नोटों के परिवर्तन के लिए राहुल भी कतार में खड़े हो गए, जनता को सख्त समस्याओं की शिकायत

NEW DELHI, NOV 11 (UNI):-Congress Vice President Rahul Gandhi waiting in a queue to withdraw money from an ATM at SBI Regional Head office branch,in New Delhi on Friday. UNI PHOTO-110U

नई दिल्ली: कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) संसद हाउज़ शाखा पहोनचकर कई लोगों को आश्चर्य में डाल दिया, जहां उन्होंने पुराने नोटों के बदले नया नोट विमर्श किया। इस अवसर पर उन्होंने नरेंद्र मोदी को निशाना बनाते हुए कहा कि केंद्र के इस कदम से जनता को होने वाली मुसीबतों को प्रधानमंत्री नहीं समझेंगे। प्रधानमंत्री की आलोचना करते हुए सरकार महज 15 या 20 लोगों के लिए नहीं बल्कि सभी गरीबों के लिए होना चाहिए।

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि सरकार की ओर से 500 और 1000 रुपये के नोटों को प्रतिबंधित किए जाने के बाद जनता को सख्त मुसीबतों का सामना कर रही है और एक समय गरीब जनता इन समस्याओं का सामना कर रहे हैं वे भी उनके साथ हैं और अपने प्राचीन 4000 रुपये परिवर्तन के लिए अन्य त्रस्त जनता के साथ इस पंक्ति में खड़े हैं। राहुल गांधी ने कहा कि इस पंक्ति में कोई करोड़पति नहीं है। गरीब जनता कई घंटों से लाइन में खड़े हैं। मैं चाहता हूं कि सरकार महज 15 या 20 लोगों के लिए नहीं बल्कि सभी गरीबों के लिए होनी चाहिए।

” राहुल गांधी ने कहा कि ” जनता मुसीबतों का सामना कर रहे हैं इसलिए मैं उनके साथ यहाँ खड़ा हूँ। अपने प्राचीन 4000 हजार रुपये के बदले नई मुद्रा नोट प्राप्त करने आया हूँ। ” राहुल गांधी ने वहां मौजूद पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि ” जनता को दरपेश समस्याओं को आप (रिपोर्टरस) या अपने करोड़पति मालकीयन या फिर प्रधानमंत्री नहीं समझ सकेंगे। ” नेहरू। गांधी परिवार के राजनीतिक वारिस शाम 4 बजकर 25 मिनट पर एसबीआई पहुँचे और आम आदमी की तरह पंक्ति में ठहर कर अपनी प्राचीन नोटों का विनिमय करवाया। इस अवसर पर कई लोगों को अपने बीच देखकर चकित रह गए। राहुल के साथ कई लोगों ने स्वयं लिया। बैंक कर्मचारियों को भी राहुल की तस्वीरें अपने मोबाइल फोन कैमरे में कैद करते हुए देखा गया।

TOPPOPULARRECENT