नोटों को रद्द करने से देश की अर्थव्यवस्था को गहरा झटका: लालू

नोटों को रद्द करने से देश की अर्थव्यवस्था को गहरा झटका: लालू

पटना: नोटों को रद्द करने के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ राष्ट्रीय जनता दल (आर जे डी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के ट्वीट वार जारी है और इस कड़ी में आज एक बार फिर उन्होंने प्रधानमंत्री पर देश की अर्थव्यवस्था को गहरा आघात लगाने का आरोप लगाया है। श्री यादव ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर अपने विशेष अंदाज में कहा, ” अगर हमारे शरीर से फेफड़ों, गुर्दे, जिगर से ज्यादातर खून निकाल लिया जाए तो क्या हम जीवित रह सकते हैं? कुछ ऐसा ही हुआ है हमारी अर्थव्यवस्था का हाल।

” एक अन्य ट्वीट में लालू जी ने हिंदी और अंग्रेजी मिश्रित भाषा में कहा कि  सेंस लेस तरीक़ों से हो रहीं ‘ऐंड लेस परेशानीयों को दबाने के लिए ‘कैशलेस जैसी बीस लेस बात कर रहे हैं, ही शुड् बी रियलिस्टिक। ” उल्लेखनीय है कि आठ नवंबर की मध्य रात्रि से देश में नोटों की रद्द की घोषणा के बाद से ही आर जे डी अध्यक्ष ने इस मामले में प्रधानमंत्री और केंद्र की राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार के खिलाफ लगातार हमला कर रहे है।

इससे पहले गुरुवार को संवाददाताओं से बातचीत में श्री यादव ने कहा था कि नोटों की समाप्ति के 50 दिन बाद भी प्रधानमंत्री योजना पूरी तरह फेल हो गई है। आम लोगों को परेशानियों से नजात दिलाने के लिए प्रधानमंत्री ने जो मोहलत मांगी थी, वह पूरी हो गई। प्रधानमंत्री काला धन वापस लाने की जगह अपना चेहरा बचाने के लिए बहुत प्रकार के तरीके अपना रहे हैं।

Top Stories