Monday , December 18 2017

नोट बंद क रके प्रधानमंत्री ने महिलाओं के पैसे और महिलाओं की शक्ति का अपमान किया है: ममता बनर्जी

पटना। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नोटबंदी को आपातकाल से भी बदतर करार देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी कर महिलाओं के पैसे और महिलाओं की शक्ति का अपमान किया है। सुश्री बनर्जी ने यहां पार्टी की ओर से आयोजित धरने को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जम कर निशाना साधते हुए कहा, कि “समस्या के समय घरेलू महिलायें बचत के पैसों का इस्तेमाल करती हैं, मोदी ने सब ले लिया। यह महिलाओं के पैसे और महिलाओं की शक्ति का अपमान है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

न्यूज़ नेटवर्क समूह प्रदेश 18 के अनुसार उन्होंने कहा कि मेरे सामने दो रास्ते थे एक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास जाऊं, दूसरा जनता के पास जाऊं, मैंने जनता के पास जाने का रास्ता चुना। “पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने नोबंदी की तुलना आपातकाल से करते हुए कहा कि आज की स्थिति आपातकाल से भी बदतर है।
देश में आर्थिक आपातकाल लगी हुई है। उन्होंने प्रधानमंत्री पर तीखा हमला करते हुए कहा कि बिग बाजार के बिग बॉस देश के प्रधानमंत्री हो गए हैं। आजकल के बच्चे पे एटीएम के लिए दूसरा शब्द कह रहे हैं ‘पे पीएम।
सुश्री बनर्जी ने नाम लिए बिना नोटबंदी का बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समर्थन के खिलाफ हमला बोलते हुए कहा कि 500 और 1000 रुपये के नोट का चलन बंद करने के मोदी के फैसले की कुछ लोगों द्वारा समर्थन करना दुर्भाग्यपूर्ण है।
सुश्री बनर्जी ने कहा कि श्री मोदी ने विदेशों से कालाधान वापस लाने का वादा किया था लेकिन अभी तक वह एक पैसा भी नहीं ला सके हैं। इसी तरह प्रधानमंत्री ने नोटबंदी की आड़ में 50 प्रतिशत टैक्स का इंतजाम करके काली कमाई करने वालों के जमा काले धन को सफेद बनाने का रास्ता साफ कर दिया है।

TOPPOPULARRECENT