Thursday , November 23 2017
Home / Khaas Khabar / नोट बैन से अपराधी भी परेशान, बिना फिरौती लिए बच्चे को छोड़ा

नोट बैन से अपराधी भी परेशान, बिना फिरौती लिए बच्चे को छोड़ा

वाराणसी : एक अनोखा मामला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र यूपी के वाराणसी में सामने आया है. अपहरणकर्ताओं ने फिरौती लिए बिना ही 14 साल के एक लड़के को छोड़ दिया. अब परिजन पीएम का शुक्रिया कर रहे हैं. वाराणसी में रहने वाले पूर्व प्रधानाचार्य मंगला प्रसाद मिश्रा का 14 साल का पोता संकल्प मिश्रा 9वीं कक्षा में पढ़ता है. उसके पिता देवेंद्र मि‍श्रा दवा व्‍यापारी हैं. 8 नवंबर की शाम संकल्प साइकिल से अपने दोस्त के घर जा रहा था. रास्ते में कार सवार कुछ लोगों ने पता पूछने के बहाने उसको पास बुलाया. संकल्प जैसे ही गाड़ी के पास पहुंचा, उन लोगों ने संकल्प को कार में खिंचकर जबरन बैठा लिया.

परिजनों का कहना है कि‍ उन लोगों ने तुरंत भेलूपुर थाने में शि‍कायत दर्ज कराई, लेकिन पुलिस ने संकल्प की तलाशी में कोई मदद नहीं की. 13 नवंबर को सुबह अपहरणकर्ताओं ने फतेहपुर जिले के बाईपास पर संकल्प को छोड़ दिया. इसके बाद वह अपने घर पहुंचा. परिजनों को यकीन ही नहीं हो रहा था कि वो सामने है. उसके परिजनों ने कहा कि उनका बेटा सकुशल वापस आ गया. इसके लिए भगवान के पीएम मोदी को धन्यवाद.

संकल्प ने बताया कि‍ वह जैसे ही गाड़ी के पास गया अपहरणकर्ताओं ने उसकी नाक पर रूमाल रख दिया. इसके बाद वह बेहोश हो गया. होश आने पर उसने देखा कि‍ उसके साथ कि‍डनैप कि‍ए गए और भी लड़के मौजूद हैं. अपहरणकर्ताओं ने उनको खाने को भी नहीं दिया. भूख लगने पर केवल पानी पिलाते थे. परिजनों ने पुलिस को इसकी सूचना दे दी है. पुलिस संकल्प से पूछताछ करके अपहरणकर्ताओं का पता लगाने की कोशिश कर रही है.

TOPPOPULARRECENT