Monday , May 21 2018

नौजवानों को मुस्लिम रहनुमाओं के हालात से वाक़िफ़ करवाना ज़रूरी

बोधन २४ दिसम्बर: ( ई मेल) आज के नौजवानों को जद्द-ओ-जहद आज़ादी में मुस्लिम रहनुमाओं की तारीख़ से वाक़फ़ीयत की ज़रूरत है। इन ख़्यालात का इज़हार सर सैयद वेलफेयर सोसाइटी के कन्वीनर क़ैसर अली ने बोधन में अल्लामा इक़बाल उर्दू हाल में मुनाक़िदा एवार्ड्स फंक्शन से खिताब करते हुए किया। उन्हों ने सर सैयद अहमद ख़ान के कारनामों और तालीमी ख़िदमात को सराहा और कहा कि इन की तालीमी जद्द-ओ-जहद के ताल्लुक़ से तलबा को अच्छी तरह वाक़फ़ीयत हासिल करना ज़रूरी है। उन्हों ने कहा कि आज़ादी के अज़ीम रहनुमा की तारीख़ और कारनामों से मौजूदा नसल को वाक़िफ़ कराने केलिए हुकूमत को चाहीए कि इन की हुब्ब-उल-व्तनी और जज़बात-ओ-कारनामों को तालीमी निसाब में अच्छे अंदाज़ में पेश करें ताकि तलबा में भी तालीमी ख़िदमत का जज़बा प्रवान चढे। कन्वीनर क़ैसर अली ने ओलियाए तलबा से कहा कि अपने ज़हनों को वुसअत देते हुए अपने नौनिहालों को ऐसी तालीम से आरास्ता करें जो कि उन्हें सिर्फ़ मुलाज़मत की हद तक ही महिदूद ना रहे बल्कि समाज-ओ-मुल़्क की तरक़्क़ी में भी एक ज़िम्मेदार शहरी बनने में मुआविन हो सके। उन्हों ने कहा कि तालीम से जितनी मालूमात हासिल की जाएंगी उतनी तरक़्क़ी की मंज़िल हमारी मुंतज़िर होंगी।

इस मौक़ा पर सर सय्यद वेलफेयर सोसाइटी की जानिब से समाजी-ओ-फ़लाही ख़िदमात अंजाम देने वाले बोधन के 5 अफ़राद में एवार्ड्स तक़सीम किए गए जिन में आबिद हुसैन फ़ारूक़ी, सना पटेल, शेख़ अहमद ज़िया, मुहम्मद अबदुलक़दीर, बासित अहमद शामिल हैं। इन के इलावा ऐस एससी में नुमायां कामयाबी हासिल करनेवाली एक तालिबा समरीन सुलताना इक़रा मॉडल हाई स्कूल रईस पेट को तहनियत पेश की गई। इस मौक़ा पर सय्यद रब्बानी एम आर पी, मज़हर अली-ओ-दीगर मौजूद थे। इस प्रोग्राम की कार्रवाई कबीर अहमद शकील ने चलाई।

TOPPOPULARRECENT