न्यूज़ीलैंड मस्जिदों पर आतंकी हमलें की होगी उच्चस्तरीय जांच!

न्यूज़ीलैंड मस्जिदों पर आतंकी हमलें की होगी उच्चस्तरीय जांच!

न्‍यूजीलैंड के प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने सोमवार को क्राइस्‍टचर्च मस्जिद हत्‍याकांड की शीर्ष स्‍तरीय जांच का ऐलान किया है। बता दें कि शुक्रवार को यहां की दो मस्जिदों में एक बंदूकधारी हमलावर की अंधाधुंध गोलीबारी में 49 लोगों ने अपनी जान गंवा दी थी।

इस हमले में 42 लोग जख्‍मी हुए थे। क्राइस्‍टचर्च स्थित डीन एवेन्‍यू मस्जिद में 41 लोग मारे गए थे, जबकि लिनवुड की मस्जिद में सात लोगों की मौत हुई थी। हमले के वक्‍त मस्जिद में भारी तादाद में श्रद्धालु मौजूद थे।

जागरण डॉट कॉम के अनुसार, इसके पूर्व प्रधानमंत्री अर्डर्न ने इस हिंसा की घोर निंदा करते हुए कहा था इस नस्‍लीय हमले की योजना बहुत सावधानी पूर्वक तैयार की गई थी। उन्‍होंने कहा था कि घटना को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि यह केवल आतंकवादी हमला है। उन्‍होंने कहा कि हम जितना जानते हैं, उसमें यह एक पूर्व नियोजित वारदात थी।

वारदात के बाद पुलिस ने तीन पुरुषों और एक महिला को हिरासत में लिया था। प्रधानमंत्री ने कहा था कि इस घटना में और हमलावर भी शािमल हो सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि राष्‍ट्रीय सुरक्षा के स्‍तर को दूसरे सर्वोच्‍च स्‍तर तक ले जाया जाएगा।

बता दें कि इस हफ्ते शुक्रवार को न्‍यूजीलैंड के क्राइस्‍टचर्च में दो मस्जिदों पर खूनी हमले को अंजाम दिया गया। इस हमले में जिस व्‍यक्ति को अभियुक्‍त बनाया गया है, उसके बारे में पुलिस का कहना है कि उसने अकेले ही इस घटना को अंजाम दिया।

28 वर्षीय आस्‍टेलियाई नागरिक ब्रेंटन टैरंट इस मामले का मुख्‍य संदिग्‍ध है। ब्रेंटन ने इस हमले का फेसबुक पर लाइव स्‍ट्रीम किया था। इस मामले में तीन और लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस कमिश्‍नर माइक बुश्‍ा ने कहा कि अभी जाचं चल रही है। न्‍यूजीलैंड के इतिहास में यह सबसे बड़ा हमला था।

Top Stories