न्यूज़ीलैंड मस्जिदों पर हमले में 6 हिन्दुस्तानी मूल के लोगों के मारे जाने की भी आशंका !

न्यूज़ीलैंड मस्जिदों पर हमले में 6 हिन्दुस्तानी मूल के लोगों के मारे जाने की भी आशंका !

न्यूज़ीलैंड में क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों में मरने वालों की संख्या 49 हो गई है. हालांकि,  ये जानकारी आधिकारिक नहीं है और न्यूज़ीलैंड की सरकार ने अभी इसकी पुष्टि नहीं की है.

वहीँ इस हमले में छह भारतीय मूल के लोगों के मारे जाने की आशंका जताई जा रही है. बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक न्यूज़ीलैंड में भारतीय उच्चायुक्त संजीव कोहली ने बताया कि शुरुआती सूचनाओं के मुताबिक इस घटना में दो भारतीयों और चार भारतीय मूल के लोगों के मारे जाने की आशंका है.  साथ ही इस हमले के बाद  कुछ भारतीय  लोगों के लापता होने की भी खबर हैं।न्यूजीलैंड में भारतीय राजनयिक ने इसकी जानकारी दी है।

 

वहीँ पीएम जैसिंडा अर्डर्न ने कहा कि यह आतंकी हमला था। प्रधानमंत्री जैसिंडा ने इस गोलीबारी को न्यूजीलैंड के सबसे काले दिनों में से एक बताया। मस्जिदों में दोपहर को जब हमला हुआ, उस समय लोगों की भीड़ वहां जुम्मे की नमाज के लिए एकत्र थी और बांग्लादेश क्रिकेट टीम के सदस्य वहां पहुंच रहे थे।

पुलिस ने शहर के स्कूलों से लॉकडाउन हटा दिया है। स्कूलों में किसी के अंदर या बाहर जाने पर प्रतिबंध लग गया था। लॉकडाउन हटने के बाद घबराए हुए अभिभावक अपने बच्चों को लेने स्कूल पहुंचे। न्यूजीलैंड पुलिस ने एक बयान में कहा कि पुलिस अब यह पुष्टि कर सकती है कि क्राइस्टचर्च में सभी स्कूलों पर लगा लॉकडाउन हटा दिया गया है। न्यूजीलैंड की पीएम ने कहा कि संयुक्त खुफिया समूह को तैनात किया गया है और पुलिस मामले की जांच कर रही है। सेना के अतिरिक्त पुलिस कर्मचारियों को इलाके में भेजा जा रहा है। एयर न्यूजीलैंड ने आज रात क्राइस्टचर्च से बाहर सभी टर्बोप्रॉप उड़ानों को रद्द कर दिया है और सुबह स्थिति की समीक्षा करेगा। घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जेट सेवाओं का संचालन जारी है।

4 संदिग्ध गिरफ्तार
पुलिस आयुक्त माइक बुश ने कहा कि चार लोगों को हिरासत में लिया गया है। इनमें से तीन पुरुष हैं और एक महिला है। उन्होंने कहा कि हमलावरों के वाहनों से जुड़े संदिग्ध आईईडी पाए गए जिसे सेना ने निष्क्रिय कर दिया है। इससे पहले न्यूजीलैंड हेराल्ड ने एक चश्मदीद के हवाले से बताया कि कम से कम दो बंदूकधारियों ने गोलीबारी की। एक अन्य चश्मदीद इदरीस खैरूद्दीन ने बताया कि उसे गोलियों की आवाज सुनकर पहले लगा कि कहीं निर्माण कार्य चल रहा है या ऐसा ही कुछ लेकिन कुछ ही देर में लोग इधर-उधर भागते और चीख-पुकार मचाते नजर आये। हमले के समय मस्जिद में लगभग 200 लोग मौजूद थे।

 

आस्ट्रेलिया का है बंदूकधारी
आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने जानकारी दी कि गोलीबारी करने वाला बंदूकधारी आस्ट्रेलिया का है। मॉरिसन ने कहा कि एक चरमपंथी, दक्षिणपंथी, हिंसक आतंकवादी ने गोलीबारी की। वह आस्ट्रेलिया में जन्मा नागरिक है। उन्होंने और जानकारी देने से इनकार कर दिया और कहा कि न्यूजीलैंड के प्राधिकारियों के नेतृत्व में जांच की जा रही है। गोलीबारी से ठीक पहले नमाज अदा करने के लिए मस्जिद में प्रवेश कर रहे बंगलादेशी क्रिकेट टीम के सदस्य इस हमले में बाल-बाल बच गए। स्थानीय मीडिया ने बताया कि एक बंदूकधारी ने मध्य क्राइस्टचर्च के हेगले पार्क स्थित मस्जिद अल नूर में अचानक गोलीबारी शुरू कर दी जहां बंगलादेशी क्रिकेट टीम के सदस्य पहुंचने ही वाले थे।

 

Top Stories