Friday , April 27 2018

नक़दी की कमी और सर्विस चार्जस के मसले पर विजयवाड़ा में एसबीआई के सामने विरोध प्रदर्शन‌

विजयवाड़ा:  आंध्र प्रदेश और ए पी ऐडीटरस एसोसीएशन ने विजयवाड़ा में स्टेट बैंक आफ़ इंडिया के सामने विरोध प्रदर्शन‌ किया। ये प्रदर्शन‌ नक़दी की कमी से निमटने में नाकामी और विभिन्न सर्विस चार्जस में कमी के मांग‌ पर किया गया। ए पी ऐडीटरस एसोसीएशन के अध्यक्ष‌ वी वी आर कृष्ण राजू और बेटर आंध्र प्रदेश के अध्यक्ष‌ पी गौतम रेड्डी की नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने एसबी आई के सामने धरना दिया।

उन्हों ने ग्राहकों को नक़दी की भुगतान में बैंक्स की नाकामी के ख़िलाफ़ नारेबाज़ी की । प्रदर्शनकारियों से बात‌ करते हुए गौतम रेड्डी ने इल्ज़ाम लगाया कि बैंक्स, सर्विस चार्जस के तौर पर भारी रक़म और टैक्स अपने ग्राहकों से वसूल कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बैंक्स 60 सर्वेक्षण के सर्विस‌ चार्जस वसूल कर रहे हैं। उन्हों ने ऐस एंडपी ग्लोबल आर्गेनाईज़ेशन की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि हिन्दुस्तानी बैंक्स अपने डिपाज़ीटरस से विभिन्न स्कीम‌ के बड़े पैमाने पर चार्जस की वसूली में दुनिया में प्रमुख हैं।

कृष्ण राजू ने मुख़्तलिफ़ स्कीम के चार्जस की वसूली से रोकने के बजाय ख़ामोश तमाशा बने रहने पर आरबीआई पर नुक्ता-चीनी की। उन्हों ने कहा कि एसबीआई ने अप्रैल 2017 से नवंबर 2017 के दरमयान अकाउंट्स में मुनासिब रक़म ना रखने पर 1771 करोड़ रुपय वसूल किए। उन्हों ने कहा कि सर्विस चार्जस का लगाने से उपभोक्ताओं पर बोझ होता है और जब बैंक्स मुनाफे में हैं तो फिर ये चार्जस क्यों वसूल किए जा रहे हैं?

TOPPOPULARRECENT