Monday , December 18 2017

नज़म-ओ-क़ानून का नज़रिया 15 दिन में तबदील करने मुलायम सिंह का इद्दिआ

लखनऊ 4 जून ( पी टी आई ) समाजवादी पार्टी के सरबराह मुलाय‌म सिंह यादव ने आज कहा कि अगर वो चीफ़ मिनिस्टर के ओहदे पर होते तो उन्होंने रियासत में नज़म-ओ-क़ानून का नज़रिया अंदरून 15 दिन तबदील कर दिया होता ।

लखनऊ 4 जून ( पी टी आई ) समाजवादी पार्टी के सरबराह मुलाय‌म सिंह यादव ने आज कहा कि अगर वो चीफ़ मिनिस्टर के ओहदे पर होते तो उन्होंने रियासत में नज़म-ओ-क़ानून का नज़रिया अंदरून 15 दिन तबदील कर दिया होता ।

उन्होंने अखिलेश यादव को मश्वरा दिया कि वो ख़ाती ओहदेदारों को जेल भेजने में हिचकिचाहट का मुज़ाहरा ना करें । उन्होंने कहा कि ज़िला मजिस्ट्रेटस और पुलिस सुपरिटेंडेंट को नज़म-ओ-क़ानून के लिए ज़िम्मेदार क़रार दिया जाएगा और ज़रूरी हो तो उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाएगी जो ओहदेदार नहीं सुनते या क़ानून पर अमल नहीं करते उन्हें जेल भेज देना चाहीए ।

अखिलेश से जो उनके क़रीब ही बैठे हुए थे उन्होंने कहा कि वो जो कुछ कह रहे हैं उसे ग़ौर से सुने और दस्तूर के तहत हर शख़्स मुसावी है इस लिए ओहदेदारों को जेल क्यों नहीं भेजा जा सकता । इस सवाल पर कि क्या अखिलेश दबाव के तहत काम कररहे हैं उन्हों ने कहा कि उन पर कोई दबाव नहीं है ।

वो सिर्फ़ उन्हें मश्वरा देते हैं दबाव नहीं डालते वो सिर्फ़ उनके वालिद नहीं पार्टी के सदर भी हैं । इस सवाल पर कि क्या समाजवादी पार्टी ने बाअज़ हलक़ों में कमज़ोर उम्मीदवारों को नामज़द किया है ताकि कांग्रेस कामयाबी हासिल करसके उन्होंने जवाब दिया कि समाजवादी पार्टी हमेशा कांग्रेस की मुख़ालिफ़ रही है और उसकी पालिसीयों के ख़िलाफ़ जद्द-ओ-जहद करती रही है।

TOPPOPULARRECENT