Tuesday , December 12 2017

पंजाब में दहशतगर्द हमला 8महलोकीन में एक एस पी शामिल

चलती बस और पुलिस स्टेशन पर मुसल्लह अस्करीयत पसंदों की अंधा धुंद फायरिंग 3हमला आवरभी हलाक करदिए गए
गुरुदास पुर: तीन ज़बरदस्त मुसल्लह फिदाइन जो फ़ौजी वर्दी में मलबूस थे और समझा जाता है कि पाकिस्तान से आए थे एक चलती हुई बस पर गोलीयों की भोचाड़ करदी और एक पुलिस स्टेशन में ज़बरदस्त दाख़िल होगए। इस हमले में 8अफ़राद हलाक होगए जिन में एक सुप्रिटेडेंट‌ पुलिस भी शामिल है।

तमाम अस्करीयत पसंदों को दिन भर तवील कार्रवाई में गोली मार कर हलाक कर दिया गया। ये पंजाब में गुज़िशता 8साल में पहला बड़ा दहश्तगर्द हमला है। दहशतगर्द जिन पर शुबा है कि या तो पाकिस्तानी लश्कर ए तैयबा के आदमी थे या जैश मुहम्मद के अरकान थे। जिन्होंने सहर के वक़्त हमला किया था।

लब सड़क एक ताम ख़ाना और एक बस को हमले का निशाना बनाया गया। बादअज़ां वो देना पर पुलिस स्टेशन में ज़बरदस्ती दाख़िल होगए। दहशतगरदों ने 8अफ़राद तीन शहरी एक सुप्रिटेडेंट‌ पुलिस ( सुराग़ रसानी) बलजीत सिंह पंजाब सुबाई ख़िदमात के ओहदेदार दो होम गार्ड्स और दो मुलाज़िमीन पुलिस को हलाक कर दिया।

हलाकतों की तादाद में इज़ाफे का अंदेशा है। क्योंकि ज़ख़मी 15 अफ़राद की हालत नाज़ुक है। तीनों अस्करीयत पसंदों को फ़ौज के साथ फायरिंग के तबादला में हलाक कर दिया गया। अस्करीयत पसंद एक वीरान इमारत में जो देना पर पुलिस स्टेशन से मुत्तसिल है महसूर थे । हालाँकि सरकारी तौर पर कोई ख़बर नहीं दी गई कि हमलावर कौन थे लेकिन शुबा किया जा रहा है कि वो पाकिस्तान से हिन्दुस्तान में घुस आए थे और उन्होंने जम्मू और पठानकोट या चक हीरा और ज़िला जम्मू के दरमियान सरहद पार की थी जहां बाड़ नसब नहीं है।

जारिया साल क़ब्लअज़ीं जैश मुहम्मद के दहशतगर्द जो फिदाइन जंगजू थे और फ़ौजी वर्दी में मलबूस थे। जम्मू-कश्मीर के ज़िला कठवा में एक पुलिस स्टेशन में 20मार्च को ज़बरदस्ती दाख़िल होगए थे और छः अफ़राद बिशमोल तीन फ़ौजीयों को हलाक कर दिया था। पंजाब पुलिस के आला ओहदेदार ने ख़ौफ़नाक फायरिंग के तबादले के इख़तेताम पर कहा कि कार्रवाई मुकम्मल होचुकी है।

फायरिंग में पंजाब पुलिस और आला सतही ख़ुसूसी हथियारों और हिक्मत-ए-अमली की टीम एस डब्लयू ए टी के कमांडरस शामिल थे । ये लड़ाई2घंटे जारी रही। तलाशी कार्रवाई कुछ देरे जारी रखी गई जब कि कई हमले हुए जिन के दरमियान दीगर 15 अफ़राद ज़ख़मी हुए। हथियारों और आलमी मुक़ाम की निशानदेही करने वाले निज़ाम ( जी टी एस ) आलात इस इमारत से दस्तयाब हुए जहां दहशतगर्द महसूर थे।

पंजाब पुलिस के आई जी पी काउंटर इंटेलिजेंस गोवरो यादव के बमूजब सुप्रिटेंडेंट‌ पुलिस बलजीत सिंह गोलीयों के ज़ख़मों से जांबर ना होसके जो फायरिंग के तबादला में उन्हें आए थे। पुलिस के बमूजब उन अफ़राद को सियोल हॉस्पिटल गुरुदास पुर मुंतक़िल किया गया है । इन में से 7 अफ़राद को जिन की हालत नाज़ुक है अमृतसर मुंतक़िल किया गया है।

ज़ख़मियों की उमरें 15 ता 55साल हैं। कार्रवाई में तीन अस्करीयत पसंद हलाक करदिए गए। डिप्टी कमिशनर गुरुदास पुर अभीनो तरीखा ने उस की इत्तेला दी। दरीं असना मतसला रियासतों हिमाचल प्रदेश पंजाब और राजस्थान में एहतेयाती इक़दाम के तौर पर सख़्त चौकसी इख़तियार करली गई है। महाराष्ट्र में भी सख़्ती चौकसी का ऐलान किया गया है।

TOPPOPULARRECENT