Sunday , September 23 2018

पकवान गैस क़ीमत में इज़ाफ़ा पर आज फ़ैसला

नई दिल्ली 27 जून: मर्कज़ी काबीना क़ुदरती गैस की क़ीमतों में इज़ाफ़ा पर पिछ्ले 3 साल में पहली बार ग़ौर करेगी। जबकि इस इक़दाम को सख़्त मज़ाहमत का सामना है।

नई दिल्ली 27 जून: मर्कज़ी काबीना क़ुदरती गैस की क़ीमतों में इज़ाफ़ा पर पिछ्ले 3 साल में पहली बार ग़ौर करेगी। जबकि इस इक़दाम को सख़्त मज़ाहमत का सामना है।

क्यूंकि इस के नतीजे में बर्क़ी टैरिफ और खाद की लागत में इज़ाफ़ा मुम्किन है। वज़ारत तेल ने तजवीज़ पेश की हैके अंदरून-ए-मुल्क तैयार की जाने वाली क़ुदरती गैस का बैन-उल-अक़वामी पेचीदा मर्कज़ और दरआमद की जाने वाली घरेलू पकवान ग़ियास के फार्मूला की बुनियाद जिस की तजवीज़ रंगा राजन कमेटी ने पेश की है।

काबीनी कमेटी बराए मआशी उमोर के मीटिंग में आठवीं मुक़ाम पर है। ये मीटिंग कल मुनाक़िद किया जाएगा। कमेटी चाहती हैके गैस की क़ीमत पर 2017 तक हर सहि माही में नज़रसानी की जाये जबकि शरहें मुकम्मिल तौर पर आज़ाद करदी जाएंगी।

ज़राए के बमूजब अगर ये तजवीज़ मंज़ूर होजाए तो गैस की क़ीमत में फ़ी दस लाख बर्तानवी थर्मल यूनिट 6.775 अमरीकी डालर से इज़ाफ़ा होकर मौजूदा 4.2 अमरीकी डालर होजाएगी।

शरहों में अप्रैल 2014 में 8.55 अमरीकी डालर का इज़ाफ़ा होगा। जबकि रिलाइंस इंडस्ट्रीज़ क़ीमत पर नज़रसानी की मुस्तहिक़ होजाएगी क्यूंकि मशरिक़ी साहिल के क़रीब KG-D6 गैस बाज़ार में आजाएगी।

TOPPOPULARRECENT