Wednesday , December 13 2017

पगड़ी के इस्तेमाल पर ऑस्ट्रेलियाई वज़ीर-ए-आज़म के तयक्कुन का खैरमक़दम

चंडीगढ़, 25 मई: ( पी टी आई) नायब वज़ीर-ए-आला सुखबीर सिंह बादल ने आज वज़ीर-ए-आज़म ऑस्ट्रेलिया जोलयागीलार्ड की जानिब से इस तयक्कुन का खैरमक़दम किया जहां उन्होंने कहा था कि उनकी हुकूमत सिक्खों को उनकी मुलाज़मतों के मुक़ामात और मूसिर साईकल चल

चंडीगढ़, 25 मई: ( पी टी आई) नायब वज़ीर-ए-आला सुखबीर सिंह बादल ने आज वज़ीर-ए-आज़म ऑस्ट्रेलिया जोलयागीलार्ड की जानिब से इस तयक्कुन का खैरमक़दम किया जहां उन्होंने कहा था कि उनकी हुकूमत सिक्खों को उनकी मुलाज़मतों के मुक़ामात और मूसिर साईकल चलाते वक़्त पगड़ी पहनने की इजाज़त देने पर ग़ौर करेगी ।

बादल ने जो शिरोमणि अकाली दल के सदर भी हैं ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि ऑस्ट्रेलिया की वज़ीर-ए-आज़म की जानिब से दिए गए तयक्कुन का हम खैरमक़दम करते हैं । इसे हम शिरोमणि अकाली दिल और तमाम सिक्ख फ़िरक़े की इस जद्द-ओ-जहद की कामयाबी से ताबीर करते हैं जो अरसा-ए-दराज़ से बैरूनी ममालिक में सरकारी और दीगर मुलाज़मतों के दौरान पगड़ी के इस्तेमाल की इजाज़त दिए जाने के लिए की जा रही थी ।

ऑस्ट्रेलियाई हुकूमत का ये तयक्कुन बेशक सिक्ख फ़िर्क़ा और हुकूमत के दरमियान ताल्लुक़ात को मुस्तहकम करने की जानिब एक मुसबत क़दम है । उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया की मईशत को मुस्तहकम करने में सिक्खों के रोल को नजरअंदाज़ नहीं किया जा सकता ।

याद रहे कि वज़ीर-ए-आज़म ऑस्ट्रेलिया ने कल एक ख़ानगी इजलास में सिक्ख एसोसीएसन के अरकान को मज़हबी और सक़ाफ़्ती बुनियाद पर उन के कुछ मुतालिबात को तस्लीम करने का तयक्कुन दिया था । इजलास सिडनी के मज़ाफ़ाती इलाक़ा ग्लेन वुड में वाकेए एक गुरुद्वारा में हुआ था ।

बादल ने मज़ीद कहा कि उनकी पार्टी की जानिब से हुकूमत ऑस्ट्रेलिया से जो बार बार दरख़ास्तें करने का सिलसिला जारी थाइस ने बिलआख़िर मुसबत नताइज फ़राहम किए हैं और उनकी कोशिशें समरावर साबित हो रही हैं।पगड़ी सिक्खों की मज़हबी शनाख़्त है जिस से उन्हें महरूम नहीं किया जा सकता ।

TOPPOPULARRECENT