Saturday , November 18 2017
Home / Bihar News / पटना धमाके के मुलजिमों को रिमांड पर लेगी एनआइए, बेंगलुरु धमाका पटना जैसा

पटना धमाके के मुलजिमों को रिमांड पर लेगी एनआइए, बेंगलुरु धमाका पटना जैसा

बेंगलुरु में इतवार की रात हुए धमाके की गुत्थी सुलझाने के लिए क़ौमी जांच एजेंसी (एनआइए) पटना व बोधगया में सीरियल धमाकों के मुल्ज़िम सिमी के दहशतगर्दों को रिमांड पर लेकर उनसे पूछताछ करेगी। बेंगलुरु पुलिस ने भी बिहार एटीएस से पटना व बो

बेंगलुरु में इतवार की रात हुए धमाके की गुत्थी सुलझाने के लिए क़ौमी जांच एजेंसी (एनआइए) पटना व बोधगया में सीरियल धमाकों के मुल्ज़िम सिमी के दहशतगर्दों को रिमांड पर लेकर उनसे पूछताछ करेगी। बेंगलुरु पुलिस ने भी बिहार एटीएस से पटना व बोधगया धमाकों की जांच से मुतल्लिक़ कुछ जानकारियां मांगी हैं।

बेंगलुरु धमाके की जांच में एनआइए को कुछ ऐसे सुबूत हाथ लगे हैं, जो पटना व बोधगया धमाके की केमिस्ट्री से मेल खाते हैं। आइबी व एनआइए से जुड़े ज़राये ने बताया कि बेंगलुरु, पटना व बोधगया धमाकों में एक ही तरह के आइइडी का इस्तेमाल किया गया है। 28 दिसंबर को बेंगलुरु में एक रेस्टोरेंट के पास हुए धमाके में हुए धमाके की जांच में जुटी आइबी व एनआइए ने बेंगलुरु में धमाके मुकाम से बरामद धमाके खेज आलात की जांच मरकज़ी फोरेंसिक लैब से करायी थी और उसकी रिपोर्ट भी मिल चुकी है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि वहां धमाके के लिए दहशतगर्दों ने अमोनियम नाइट्रेट, जिलेटिन की छडें, बैटरी और जिस टाइमर का इस्तेमाल किया था, ठीक इसी तरह के सामान और केमिकल का इस्तेमाल उन्होंने पटना में साल 2013 के 27 अक्तूबर के सीरियल धमाकों में भी किया था। दोनों हमलों में फर्क सिर्फ इतना है कि पटना में उन्होंने वॉटर सपलाय में इस्तेमाल होनेवाली लोहे की पाइप (एल आकार) का इस्तेमाल किया था, जबकि बेंगलुरु में उन्होंने लोहे की पाइप की जगह एल्यूमिनियम की पाइप का इस्तेमाल किया है। फिलहाल बेंगलुरु पुलिस की तरफ से की जा रही बेंगलुरु धमाके की जांच में एनआइए फिलहाल उसकी मदद की किरदार में है। एनआइए के ज़राये बताते हैं कि बेंगलुरु के अलावा एक मई को चेन्नई स्टेशन पर एक ट्रेन में हुए धमाकों में भी सिमी के दहशतगर्दों ने धमाके करने में इसी तरह के केमिकल का इस्तेमाल किया था।

ज़राये ने बताया कि बेंगलुरु धमाके की जांच को लेकर एनआइए की टीम जल्द ही पटना व रांची के जेलों में बंद सिमी के दहशतगर्दों को पूछताछ के लिए रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है। क्योंकि बेंगलुरु धमाके के बाद एनआइए और बेंगलुरु पुलिस को कोई ऐसा लीड नहीं मिला है, जिससे इस दहशतगर्द हमले की परतें खुल सकें।

पटना ब्लास्ट में जेल में बंद हैं सिमी के 11 दहशतगर्द

हैदर अली उर्फ ब्लैक ब्यूटी

नुमान अंसारी

तौफिक अंसारीत्नमो मुजिबुल्लाह अंसारी

उमेर सिद्दीकी

अजहरुद्दीन कुरैशी त्नअहमद हुसैन कुरैशी

फखरुद्दीन

फिरोज असलम

मो इफ्तेखार आलम

इम्तियाज अंसारी

TOPPOPULARRECENT