Friday , December 15 2017

पटना में मेट्रो रेल के लिए काबिना की मिली मंजूरी

पटना : पटना में मेट्रो ट्रेन के चलने का ख्वाब अगले पांच साल में पूरा होगा. मंगल को रियासती कैबिनेट की बैठक में मेट्रो रेल प्रोजेक्ट को मंजूरी दी गयी. साल 2021 में चालू होनेवाली इस प्रोजेक्ट को 2031 तक पटना का तौसिह 1150 वर्ग किमी में होने और मेट्रो की तौसिह दानापुर, खगौल, फुलवारी, सैदपुरा, बिहटा से फतुहा तक होने को ध्यान में रख कर तैयार किया गया है.

बड़ी आबादी के आने जाने के लिए रियासती हुकूमत ने चार फेज़ में मेट्रो रेल प्रोजेक्ट को पूरा करने का फैसला लिया है. कैबिनेट की बैठक के बाद जाती महकमा नायब सेक्रेटरी डाॅ यूएन पांडेय ने बताया कि राइट्स की तरफ से तैयार डीपीआर के मुताबिक पटना में चार मेट्रो कोरिडोर होंगे. इस पर 16960 करोड़ रुपये खर्च होंगे. इसमें जायका औ एडीबी से 7852 करोड़ कर्ज और 6544 करोड़ रियासती हुकूमत अपने खजाने से खर्च करेगी.

प्रोजेक्ट का काम एसपीवी मॉडल पर किया जायेगा. प्रोजेक्ट के काम की तजवीज जायका और एडीवी को भेजने के लिए इंतेजामिया से मंजूरी दी गयी. इसके पूरा होने पर आम लोगों को रोजाना लगनेवाले जाम से आजादी मिलने के अलावा आलूदगी कम होगा. कार्बन फुटप्रिंट घटेगा. इससे प्राइवेट गाड़ियों पर मुनहसर कम होगी. आने-जाने में 50 से 75 फिसद वक़त की बचत होगी. डाॅ पांडेय ने बताया कि दीघा से पटना सिटी के दरमियान की घनी आबादी को मेट्रो सहुलत देने के लिए रियासती हुकूमत फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार करेगी. हुकूमत को रिपोर्ट मिलने के साथ ही यहां मेट्रो रेल प्रोजेक्ट शुरू की जायेगी.

TOPPOPULARRECENT