Sunday , July 22 2018

पटना: सरेआम भाजपा लीडर का किया क़त्ल

पटना: राजधानी के कदमकुआं थाने के सालिमपुर अहरा रोड नंबर तीन में आज सुबह भाजपा लीडर अविनाश कुमार का गोली मारकर कत्ल कर दिया गया। वाकिया के दौरान अविनाश अपनी बेटी को स्कूल छोड़कर वापस लौट रहे थे। फौतशुदा लीडर पटना भाजपा डिवीजन के जनरल सेक्रेटरी थे। वे दलदली गली नंबर दो के साकिन थे।

इस वाकिया के एहतिजाज मेें आज मुकामी बाजार बंद है। इस पूरे वाकिया का वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि भाजपा लीडर को किस तरह बदमाशों ने दौड़ाकर गोली मारी।

कातिलों को देखकर अविनाश भागे, लेकिन बच नहीं सके। तीन कातिलो ने उन्हें सड़क पर दौड़ाकर ताबड़तोड़ पांच गोलियां मारी और भाग गए। क़त्ल की वजह अभी तक मालूम नहीं चल सका है।

पूरा वाकिया सीसी कैमरे में⁠⁠⁠⁠ कैद हो गई है। पुलिस ने वीडियो फुटेज की बुनियाद पर मुजरिमो की पहचान कर लेने का दावा किया है। एसएसपी विकास वैभव ने बताया कि पुलिस उनकी गिरफ्तारी को लकर छापेमारी में जुट गई है।

दिनदहाड़े हुई दिल दहलाने वाला वाकिया से लोगों का गुस्सा भड़क गया। लोगों ने लाश को दलदली रोड मंदिर के पास रखकर सड़क जाम कर दिया। भीड़ ने सड़कों पर आगजनी भी की। ज़ाय वाकिया पर पुलिस Vajra vehicle के साथ पहुंची, लेकिन तनाव को देखते हुए बहरी बनी रही।

ज़ाय वाकिया पर मरकज़ी वज़ीर रामकृपाल यादव, भाजपा तरजुमान व एमपी शाहनवाज हुसैन, साबिक नायब सीएम सुशील मोदी,ब्जेपी के रियासती सदर मंगलवार पांडेय व भाजपा एमएलए नितिन नवीन समेत कई लीडर पहुंचे। वे कातिलों की फौरी गिरफ्तारी की मांग करते हुए सड़क पर ही धरना पर बैठ गए। बाद में एसएसपी की तरफ से कातिलो की पहचान कर लेने व उनकी जल्द गिरफ्तारी की यकीनदहानी देने पर उन्होंने लाश को उठाने दिया। भाजपा ने कातिलो की गिरफ्तारी के लिए पुलिस को 48 घंटे का वक्त दिया है।

सरेराह भाजपा लीडर का दौड़ाकर कत्ल पर पुलिस हेड्क्वार्टर ने सख्त रूख अख्तियार किया है। डीजीपी पीके ठाकुर ने एडीजी रैंक के एक आफीसर को इसकी मॉनिटरिंग की हिदायत दिया है।

फौतशुदा अविनाश भाजपा में शामिल होने के पहले कई चैनलों के लिए काम करते थे। 2007 में एक सड़क हादिसे के बाद उसका दाहिना हाथ फालिज़ का शिकार हो गया था। इसके बाद वे भाजपा व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ गए थे।

TOPPOPULARRECENT