Saturday , November 18 2017
Home / Mumbai / पठानकोट हमला का मुंहतोड़ जवाब ज़रूरी शिवसेना का रद्द-ए-अमल

पठानकोट हमला का मुंहतोड़ जवाब ज़रूरी शिवसेना का रद्द-ए-अमल

मुंबई: पठानकोट दहशत हमलों का मुंहतोड़ जवाब देने की वकालत करते हुए शिवसेना ने आज कहा कि दहशतगर्दी के इस तरह के वाक़ियात पर वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी का सब्र टूटना चाहिए। शिवसेना तर्जुमान सामना में तंज़िया अंदाज़ में तहरीर किया गया है कि दहशतगर्दी हमलों के ताल्लुक़ से हमारा सब्र और रवादारी क़ाबिल-ए-तारीफ़ है। उसकी एक हद है।

हम दुआ करते हैं कि इस तरह के हमलों पर नरेंद्र मोदी का सब्र ख़त्म हो। शिवसेना ने कहा कि अमरीका ने पठानकोट मसले पर पाकिस्तान पर दबाओ डाला है। और हसब-ए-मामूल हमारी गेंद अब पाकिस्तान के कोर्ट में है। आगे क्या होगा उसका इंतेज़ार करने के अलावा कुछ भी हमारे हाथ में नहीं है।

ईदारिया में कहा गया है कि दहशतगर्द तंज़ीम जईश मुहम्मद ने हमारे ज़ख़मों पर मज़ीद नमक छिड़का है और इद्दिआ किया है कि इस के सिर्फ छः दहश्तगरदों का हिन्दुस्तानी फ़ौज मुक़ाबला नहीं करसकी। इस तरह के हमले उस वक़्त तक रुकने वाले नहीं हैं जब तक उनका मुंहतोड़ जवाब ना दिया जाये।

उन्होंने कहा कि अगर हिन्दुस्तानी हुकमरान दुश्मन को बरवक़्त नाकाम बनाने के लिए क्षत्रीय धर्मा पर अमल नहीं करेंगे उस वक़्त तक ये काम मुश्किल हो जाएगा। ईदारिया में कहा गया है कि सिर्फ हिन्दुस्तान के लिए मजबूरियाँ क्यों ? रूस फ़्रांस अमरीका और बर्तानिया जैसे ममालिक अपने दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देते हैं और वो गेंद दुश्मन के कोर्ट में नहीं डालते|

TOPPOPULARRECENT