Monday , June 25 2018

धर्म परिवर्तन करने के लिए पति द्वारा प्रताड़ित करने का इल्जाम, आराेपी गिरफ्तार

रांची/रातू: महिला को प्रताड़ित करने के आरोप में पुलिस ने गुरुवार को अफजल और मोसिम को गिरफ्तार किया है. महिला ने फेसबुक पर दोस्ती कर झांसा देने के बाद शादी करने और बाद में निकाह कर दूसरा धर्म अपनाने के लिए प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. पुलिस ने पीड़ित महिला की शिकायत पर केस दर्ज कर लिया है. अफजल पीड़ित महिला का पति है. मोसिन अफजल का भतीजा है. जानकारी के अनुसार महिला चुटिया थाना क्षेत्र की रहनेवाली है. उसकी दोस्ती वर्ष 2010 में फेसबुक से रौनक भारद्वाज नाम युवक से हुई. चैटिंग के दौरान दोनों एक-दूसरे के करीब आये और दोनों के बीच प्रेम हो गया. महिला ने बताया कि रौनक भारद्वाज ने पहले उससे हिंदू रीति-रिवाज से 2011 में शादी की.

शादी के बाद दोनों रांची में रह कर काम करने लगे. वर्ष 2013 में रांची में कोर्ट मैरेज के समय युवती को पता चला कि रौनक भारद्वाज का असली नाम शेख अली अफजल है. विरोध करने पर महिला को समझाया गया कि वह अपना धर्म मानने के लिए स्वतंत्र है. बाद में अफजल महिला को सीवान ले गया आैर परिजनों के कहने पर उसके साथ निकाह किया.

महिला का आरोप है कि उसे सीवान में धर्म परिवर्तन करने के लिए दबाव दिया जाने लगा. विरोध करने पर उसे प्रताड़ित किया जाने लगा. तब महिला किसी तरह नौकरी के बहाने सीवान से रांची आकर कमड़े में किराये के घर में रह कर काम करने लगी. गुरुवार को अफजल कांके भिट्ठा बस्ती के मोसिम खान के साथ आकर महिला को खींच कर जबरन अपने साथ ले जाना चाहा. जिसका विरोध करने पर आसपास के लोग इकट्टा हो गये. तब कुछ लोगों ने दोनों को पकड़ कर उनकी पिटाई कर दी और इसकी सूचना पुलिस को दी. पुलिस दोनों को साथ लेकर थाना गयी. बाद में पीड़ित महिला के समर्थन में कई लोग रातू थाना पहुंचे. पुलिस पर मामले में कार्रवाई के लिए दबाव बनाया. पुलिस ने महिला की शिकायत पर दोनों को गिरफ्तार कर लिया. इधर, मामले में महिला का पति का कहना है कि वह सिर्फ अपनी पत्नी से यह कहने आया था कि वह या तो तलाक ले या फिर साथ चले. पति ने महिला पर झूठे केस में फंसाने का आरोप लगाया है.

TOPPOPULARRECENT