पत्रकार जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या में फंसे सऊदी अरब की धीरे- धीरे खुल रह हैं पोल, किंग सलमान की मुश्किलें बढ़ी!

पत्रकार जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या में फंसे सऊदी अरब की धीरे- धीरे खुल रह हैं पोल, किंग सलमान की मुश्किलें बढ़ी!
Click for full image

सऊदी अरब के सक्रिय कार्यकर्ता ने सऊदी नरेश के बंदी बनाए जाने की सूचना दी है।

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार सऊदी अरब के सक्रिय कार्यकर्ता मुजतहिद ने ट्वीट कर बताया कि सऊदी क्राउन प्रिंस बिन सलमान ने अपने पिता को जेल में डाल दिया है और वह अपने पिता से बहुत नराज़ और क्रोधित नज़र आ रहे हैं।

वह आगे लिखते हैं कि मुहम्मद बिन सलमान बहुत अधिक क्रोधित और असमंजस का शिकार हैं और वर्तमान समय में बहुत से रक्षकों और गार्डों के साथ अपने बंद महल में बैठे हैं।

मुजतहिद लिखते हैं कि मुहम्मद बिन सलमान उनके प्रभाव को कम करने के लिए होने वाली हर कार्यवाही को रोकने प्रयास कर रहे हैं और इसीलिए उन्होंने अपने पिता के विरुद्ध घेरा तंग करना शुरु कर दिया और वह किसी को आवश्यक मुलाक़ात के अलावा अपने पिता से मिलने नहीं दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि बिन सलमान, विरोधी पत्रकार जमाल ख़ाशुक़्जी की हत्या की ज़िम्मेदारी अपने किसी निकटवर्ती पर डालने के प्रयास में हैं। रोइटर्ज़ का कहना है कि सऊद अलक़हतानी ने स्काइप द्वारा जमाल ख़ाशुक़्जी की हत्या की कार्यवाही देखी और वह मुहम्मद बिन सलमान का बहुत ही निकटवर्ती है।

मुजतहिद ने इसी प्रकार बल दिया कि सऊद अलक़हतानी प्रवक्ता था न कि दरबारी सलाहकार। आप रोइटर्ज़ की दूसरी रिपोर्ट की प्रतीक्षा करें जिसमें मुहम्मद बिन सलमान की ओर इशारा किए बिना ही क्राउन प्रिंस के कार्यालय प्रमुख बद्र अलअसाकिर पर अलक़हतानी के साथ सहयोग का आरोप लगाया जाएगा, एेसा लगता है कि रोइटर्ज़ ने भी हत्यारों के साथ साठगांठ कर ली है।

सऊदी कार्यकर्ता मुजतहिद ने सऊदी अरब में राजपाट की ख़राब स्थिति के बारे में एेसी हालत में उल्लेख किया कि यह राजपाट, ख़ाशुक़्जी की हत्या के कारण बहुत ही संकटमयी स्थिति में है और यही वजह है कि बहुत से आर्थिक और राजनैतिक मामलों के अधिकारियों ने अपनी रियाज़ यात्रा स्थगित कर दी ।

साभार- ‘parstoday.com’

Top Stories