पत्रकार डरे नहीं, सेना की तरह बेखौफ होकर सच की रक्षा किजिये- राहुल गांधी

पत्रकार डरे नहीं, सेना की तरह बेखौफ होकर सच की रक्षा किजिये- राहुल गांधी
Click for full image

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को पत्रकारों से कहा कि जिस तरह से भारतीय सेना सीमा पर रह कर देश की रक्षा करती है, वैसे ही वे लोग “निडर’’ होकर सच की रक्षा करें। मध्य प्रदेश में एक जनसभा को संबोधित करते हुए गांधी ने यह बातें कहीं। राज्य में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी मेहुल चौकसी ने एक मंत्री के खाते में धन जमा किया। उन्होंने एक संवाददाता की तरफ देखते हुए कहा, “हमने यह जानकारी संवाददाताओं को दी लेकिन वे (इसे प्रकाशित करने को लेकर) डरे हुए थे।

” गांधी ने कहा, “वे कह रहे हैं कि भाई (गांधी) आप सही बोल रहे हैं लेकिन हम डरते हैं कि क्या होगा (अगर हम सच लिखते हैं तो)।” उन्होंने आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक बैठक में भाजपा एक महिला को सिखा-पढ़ा कर लेकर आई थी।

उन्होंने कहा, “महिला को कहा गया कि दिल्ली से अधिकारी और प्रधानमंत्री आए हैं और उससे कुछ सवाल पूछे जाएंगे। उन्होंने उसे बताया कि उसे कहना है कि उसकी आय दोगुनी हो गई। प्रधानमंत्री आए और एक टीवी कार्यक्रम शुरू हो गया।”

इस बारे में पूछे जाने पर भाजपा के वरिष्ठ नेता हितेश बाजपेयी ने कहा कि गांधी “राजनीतिक सनक” से ग्रसित हैं। गांधी ने कहा, “बैठक के बाद एक संवाददाता महिला के पास पहुंचा।

पत्रकार बुद्धिमान होते हैं। वह डरा हुआ नहीं था और उसने पूछा कि क्या सचमुच उसकी आय दोगुनी हो गई। महिला ने उसे बताया कि असल में आय आधी हो गई है।”

कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया, “पत्रकार ने इसपर समाचार दिया और जिस मीडिया हाउस के लिए वह काम करता था उसने उसे 10 दिन बाद नौकरी से निकाल दिया।” गांधी ने कहा, “इसलिए डर बना हुआ है।

डरिए नहीं और सेना की तरह बनें, जो हमारी सीमा की रक्षा करती है।” उन्होंने कहा, “आपका काम सच की रक्षा करना है। कई बार पत्रकार हमारे खिलाफ भी लिखते हैं लेकिन मैं आपको डराउंगा, धमकाऊंगा नहीं, ना ही आप पर दबाव बनाउंगा। हम आपका स्थान जानते हैं।”

Top Stories