Tuesday , November 21 2017
Home / India / पद्मनाभस्वामी मंदिर में सलवार कमीज पहनकर प्रवेश नहीं कर सकती महिलाएं : केरल हाईकोर्ट

पद्मनाभस्वामी मंदिर में सलवार कमीज पहनकर प्रवेश नहीं कर सकती महिलाएं : केरल हाईकोर्ट

केरल : तिरुअनंतपुरम के श्री पद्मनाभ स्वामी मंदिर में महिलाओं के सलवार कमीज़ और चूड़ीदार पाजामा पहनकर   प्रवेश करने पर केरल हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है | फैसले के मुताबिक मंदिर में अब साड़ी पहनकर आने वाली महिलाओं को ही प्रवेश की इजाज़त होगी| हाई कोर्ट ने गुरुवार को यह आदेश देते यह भी साफ किया कि मंदिर के रीति-रिवाज और कर्म कांड के मामले में मुख्य पुजारी के शब्द ही अंतिम माने जाएंगे|
मंदिर की परंपरा के अनुसार महिलाओं के लिए मंदिर में प्रवेश करने से पहले मुंडू (धोती) पहनना अनिवार्य होता है। इस परंपरा के चलते महिलाओं को अपने कपड़ो पर अलग से धोती पहनने की जरूरत होती थी| टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार 30 नवंबर 2016 को एक प्रशासनिक अध‍िकारी केएन सतीश ने महिलाओं को इस मंदिर में चूड़ीदार पहनकर जाने की इजाजत दे दी थी|  उन्होंने मंदिर के चेयरमैन के हरिपाल के विचार के खिलाफ जाकर यह आदेश दिया था| केरल के कई समूहों द्वारा नए ड्रेस कोड पर आपत्ति दर्ज कराये जाने के बाद ये विवाद कोर्ट पहुंचा था | सतीश के इस निर्णय के खिलाफ केरल हाईकोर्ट में दो याचिकाएं दायर की गईं, जिसके बाद कोर्ट ने यह आदेश दिया|
इसके अलावा फैसले में यह भी कहा गया है कि मंदिर से जुडी परंपरा में  बदलाव करने का कोई हक कार्यकारी अधिकारी के. एन. सतीश को नहीं है |2011 में यह मंदिर उस समय सुर्खियों में आया था जब इसके तहखाने से लगभग एक लाख करोड़ रुपये की कीमत का खजाना मिला था| पद्मनाभस्वामी मंदिर देश के कुछ सबसे धनी मंदिरों में से एक माना जाता है|

 

TOPPOPULARRECENT