Saturday , December 16 2017

पद्मावती के विरोध में एकजुट हुए हिंदू और मुस्लिम, गांव तक पहुंचा विरोध

धनौरी : पद्मावती फिल्म के विरोध में हिन्दू मुस्लिम एक हो गए हैं और अपनी एकता मजबूती के साथ दुख रहे हैं। विरोध की आग अब ग्रामीण इलाकों में भी पहुंचने लगी है। हिंदुओं के साथ मुस्लिम समुदाय भी फिल्म का जबरदस्त विरोध कर रहा है। लोगों का कहना है कि फिल्मकार ने ऐतिहासिक तथ्यों को तोड़मरोड़ कर पेश किया है। जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

धनौरी और आसपास के कई गांवां के हिंदू और मुस्लिम समुदाय के लोगों ने शुक्रवार को विरोध प्रदर्शन करने के बाद राज्य सरकार से सिनेमाघरों में फिल्म के प्रदर्शन पर रोक पर लगाने की मांग की। ग्रामीणों ने यह चेतावनी दी कि उनकी मांग को नजरअंदाज करने पर सड़क जाम की जाएगी।

घाड़ संघर्ष समिति के संयोजक सुभाष सैनी ने कहा कि फिल्म में इतिहास के तथ्यों को गलत तरीके से दिखाया गया है। कहा कि इस फिल्म को जिले किसी भी सिनेमाघरों मे प्रदर्शित करने पर सिनेमाघर को आग के हवाले कर दिया जाएगा।

वहीं हिंदू जागरण मंच के पूर्व संयोजक विनोद पुरी ने कहा कि फिल्म के जरिये वीरांगनाओं के चरित्र का गलत प्रदर्शन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस दौरान राकेश, योगेश, मुकेश गिरी, जुल्फाम, जुल्फिकार अली, आशु, रफीक, टिंकू, परवीन रामचंद्र, वीर सिंह, रविंद्र, नीरज, निर्धन, दीपक, अमित, आकाश, सलमान, बाबूराम, चट्टान सिंह, आशीष आदि मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT