Tuesday , November 21 2017
Home / World / पनाह गुज़ीन ‘ख़ुश आमदीद लेकिन मुजरिम नामंज़ूर’

पनाह गुज़ीन ‘ख़ुश आमदीद लेकिन मुजरिम नामंज़ूर’

जर्मन चांसलर ने मुजरिमाना अफ़आल में मुलव्विस पाए जाने वाले पनाह गज़ीनों के लिए क्वानीन में सख़्ती की हिमायत कर दी है। दरीं अस्ना कोलोन में इंतिहाई दाएं बाज़ू के एक ग्रुप की तरफ़ से किया जाने वाला मुज़ाहिरा पुरतशद्दुद रंग अख़्तियार कर गया।

हमला आवरों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई का कहते हुए चांसलर मीरकल ने कहा कि सज़ाए क़ैद के हक़दार क़रार दिए जाने वाले हर एक मुहाजिर को मुल्क बदर कर दिया जाएगा।

उनका मज़ीद कहना था, अगर क़ानून उस की इजाज़त नहीं देता, तो क़ानून बदलना पड़ेगा। चांसलर के बाक़ौल इस इक़दाम का मक़सद ना सिर्फ जर्मन शहरीयों बल्कि बेगुनाह तारकीने वतन की हिफ़ाज़त भी है। उन्हों ने ये बयान माइन्ज़ शहर में अपनी सियासी जमात क्रिस्चन डैमोक्रेटिक पार्टी (CDU) के एक आला सतही इजलास के बाद आज हफ़्ते के रोज़ दिया।

क़ब्लअज़ीं जुमे के रोज़ जर्मन वज़ारते दाख़िला की तरफ़ से आगाह किया गया था कि वफ़ाक़ी पुलिस ने कोलोन में इकत्तीस दिसंबर की रात लूट-मार और ख़वातीन को जिन्सी तौर पर हिरासाँ किए जाने के वाक़े से मुंसलिक बत्तीस मुल्ज़िमान की शनाख़्त कर ली है, जिनमें से बाईस पनाह गुज़ीन हैं। मजमूई तौर पर 76 मुख़्तलिफ़ जराइम किए गए, जिनमें से बारह जिन्सी नौईयत के थे।

TOPPOPULARRECENT