Tuesday , December 12 2017

परिन्दों की हिफ़ाज़त और निगहदाश्त ज़रूरी

ब्रैड रीज फ़ाइनेंशीयल सॉलवेशन (इंडिया) प्राईवेट लिमिटेड ने ढाई सौ से ज़ाइद परिन्दों को अपनाते हुए उन की निगहदाश्त का फ़ैसला किया है। डायरेक्टर ब्रैड रीज वी लक्ष्मी कांत ने नेहरू जियोलाजिकल पार्क के ढाई सौ परिन्दों को अपनाने का एला

ब्रैड रीज फ़ाइनेंशीयल सॉलवेशन (इंडिया) प्राईवेट लिमिटेड ने ढाई सौ से ज़ाइद परिन्दों को अपनाते हुए उन की निगहदाश्त का फ़ैसला किया है। डायरेक्टर ब्रैड रीज वी लक्ष्मी कांत ने नेहरू जियोलाजिकल पार्क के ढाई सौ परिन्दों को अपनाने का एलान किया।

इस मौक़ा पर मुनाक़िदा तक़रीब के दौरान उन्हों ने एक साल के लिए पाँच लाख रुपये का चैक नेहरू ज़ूलोजीकल पार्क के डायरेक्टर मल्लिका अर्जुन के हवाले किया।

उन्हों ने परिन्दों की निगहदाश्त और अफ़्ज़ाइश के पसेपर्दा मक़ासिद पर भी इस मौक़ा पर रौशनी डाली उन्होंने कहा कि परिंदे माहौलियाती निज़ाम में बेहतरी लाने का ज़रिया हैं जिन की हिफ़ाज़त और निगहदाश्त ज़रूरी है।

उन्हों ने मज़ीद कहा कि परिंदे भी हमारी ज़िंदगी का हिस्सा हैं उन्हों दीगर जंगली जानवर जैसे शेर बब्बर और चीता की तरह परिन्दों को भी अपनाकर उन की निगहदाश्त और अफ़्ज़ाइश के लिए दरकार सहूलतें फ़राहम करने के इक़दाम को ज़रूरी क़रार दिया।

TOPPOPULARRECENT