Friday , June 22 2018

पश्चिम बंगाल के धुलागढ़ में सांप्रदायिक हिंसा, इलाके में तोड़-फोड़ और आगजनी

कोलकाता: पश्चिम बंगाल के धुलागढ़ में टीएमसी और बीजेपी सांप्रदायिक हिंसा के चलते एक बार फिर भिड़ गई है। इलाके में निकलने वाले धार्मिक जलूस के रास्ते पर बढ़े बवाल के बिगड़े हालात पर बीजेपी ने टीएमसी पर उंगली उठाई है। बीजेपी का आरोप है कि राज्य में सत्तारूढ़ पार्टी ही राज्य को बम फैक्ट्री बनाने का काम कर रही है।

आपको बता दें कि पुलिस ने धार्मिक जलूस के चलते उस रास्ते से गुजरने वाले बीजेपी नेताओं को रोक दिया था जिसके चलते बीजेपी ने पुलिस को भी निशाने पर ले लिया कि वह टीएमसी का साथ दे रही है। इस मामले पर कुछ लोकल लोगों का कहना है कि जलूस के दौरान पथराव किया गया जबकि कुछ का कहना है कि हिंसा किसी ने नहीं भड़काई। बुधवार के दिन इलाके में देशी बमों से हमला और आगजनी की गई। लोगों के घरों और दुकानों में तोड़-फोड़ की गई। पुलिस के पहुंचने तक हालात खराब हो चुके थे। हालात खराब करने के पीछे लोकल बदमाशों का नाम सामने आ रहा है। इसके बाद पूरे इलाके में पुलिस और रैपिड एक्शन फाॅर्स तैनात कर दी गई है और सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम किये गए हैं।

गौरतलब है कि धुलागढ़ इलाके में ज्यादातर मुस्लिम आबादी ही रहती है और लोगों का कहना है कि उनको उनके धर्म की वजह से निशाना बनाया गया। लोकल लोगों ने बताया कि उपद्रवियों ने 100 से ज्यादा मकानों में तोड़फोड़ करते हुए गैस सिलिंडर से आग लगा दी जिसके तहत 80 से ज्यादा दुकानें जलाई गई हैं। इस मामले में आइजी  जेय मुकुंद राणाडे का कहना है कि हालात में सुधार हो रहा है और जल्द ही सामान्य हो जायेंगे।

TOPPOPULARRECENT