पश्चिम बंगाल में कश्मीरी शॉल विक्रेता की मॉब लिंचिंग, जबरदस्ती वंदे मातरम बुलवाया

पश्चिम बंगाल में कश्मीरी शॉल विक्रेता की मॉब लिंचिंग, जबरदस्ती वंदे मातरम बुलवाया

कोलकाता: पुलवामा हमले को लेकर पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में भीड़ ने कश्मीरी शॉल विक्रेता की जमकर पिटाई की. जानकारी के मुताबिक सोमवार को ताहेरपुर बाजार में जम्मू-कश्मीर मूल के जावेद खान की भीड़ ने जमकर पिटाई की. इस दौरान जावेद खान अपनी दुकान के अंदर था. पहले कुछ लोगों ने जावेद खान पर हमला किया और फिर भीड़ का साथ देने और लोग भी आ गए और जावेद खान को बुरी तरह पीटा और उससे जबरदस्ती वंदे मातरम बुलवाया.

पुलवामा हमले के बाद डर की वजह से जावेद और उसके भाई मेहराजुद्दीन ने अपनी दुकान बंद कर दी थी लेकिन सोमवार की रात भीड़ ने जावेद के किराए के घर में ही हमला बोल दिया. जानकारी के मुताबिक मारपीट की घटना के करीब एक घंटे बाद पुलिस मौके पर पहुंची. इससे पहले ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि बीजेपी और आरएसएस के लोग राज्य में इस तरीके की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं. ऐसा ही एक मामला और भी देखने को मिला था जहां भीड़ ने एक टीचर पर उनकी पुलवामा हमले को लेकर की गई पोस्ट के बाद हमला बोल दिया था और उसे भारत माता की जय बोलने पर मजबूर किया था.

इसी तरह की एक और घटना राज्य में घटी जहां उत्तरी कश्मीर के मुचीपारा इलाके में 22 साल के एक कश्मीरी शॉल व्यापारी को भीड़ ने पीटा था. सैंकड़ो लोग उसके घर के अंदर घुसे और उसे पीटते हुए कहा कि तुम कश्मीरी हो इसलिए यहां से भाग जाओ. यही नहीं उन्होंने मकान मालिक को भी धमकी दी कि अगर उन्होंने इसे नहीं निकाला तो उन्हें बुरे अंजाम भुगतने होंगे.

Top Stories