Wednesday , July 18 2018

पहलाज निहलानी को शोभा डे का करारा जवाब, मैं बोलूंगी गाय, गुजरात,हिन्दू और हिंदुत्व, आप क्या कर लोगे?

सीबीएफसी के चेयरमैन पहलाज निहलानी को लेखिका शोभा डे ने चुनौती देते हुए कहा है कि वो “गाय”, “गुजरात”, “दंगा” और “हिंदुत्व” जैसे शब्द बोलेंगी और उन्हें जो करना हैं कर लें।

नोबेल पुरस्कार से सम्मानित अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन की डॉक्यूमेंट्री में सेंसर बोर्ड ने कई कट लगाने के लिए कहा है।

सेंसर बोर्ड ने सुमन घोष द्वारा निर्देशित फिल्म ‘एन आर्गुमेंटेटिव इंडियन’ में ‘गाय’, ‘गुजरात’, ‘हिंदू’ और ‘हिंदुत्व’ जैसे शब्दों पर आपत्ति जताई है और इन शब्दों को हटाने के लिए कहा है।

सेंसर बोर्ड का कहना है कि ‘इन शब्दों के इस्तेमाल से देश की छवि खराब होगी।

इस मामले में शोभा डे का कहना है कि “उसका चाहे जो भी नाम हो मैं उसे खुला खत नहीं लिखने जा रही। मैं बस इतना कहना चाहती हूं कि मैं गाय, दंगा, गुजरात, हिंदुत्व, हिंदू राष्ट्र जैसे शब्दों को बोलने का अधिकार अपने पास रखूंगी। और मेरा जब, जैसे, जहां और जिस क्रम में उन्हें बोलने का मन करेगा मैं बोलूंगी। क्या करोगे आप?”

बहस करना भारत की संस्कृति में शुमार है और ये संस्कृति की एक शानदार चीज है।

भारत के लोग बहस करना पसंद करते हैं और हम हमेशा बहस करते हैं। ये हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है और रहेगा। समझ गए ना, पहलाजजी? आप भी बहस करो। आपको किसने रोका है?

शोभा डे ने लिखा है कि कुछ लोग अमर्त्य सेन पर चाहे जो भी आरोप लगा लें वो इतिहास नहीं बदल सकते, खासकर पहलाज निहलानी।

इस मामले में अमर्त्य सेना ने भी मीडिया से कहा कि वो इस मुद्दे पर बहस करने के लिए तैयार हैं।

TOPPOPULARRECENT