Sunday , November 19 2017
Home / Delhi News / पहली फरवरी को आम बजट, चुनाव वाले राज्यों के लिए नहीं होगी कोई घोषणा

पहली फरवरी को आम बजट, चुनाव वाले राज्यों के लिए नहीं होगी कोई घोषणा

नई दिल्‍ली। उत्तर प्रदेश सहित पांच राज्‍यों में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव के मद्दे नजर विपक्ष की ओर से आम बजट की तारीख बदलवाने को लेकर दायर याचिका के बीच खबर है कि बजट की तारीख में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। पूर्व प्रस्‍तावित तारीख 1 फरवरी को ही संसद में आम बजट पेश किया जाएगा।

लेकिन इस बीच सूत्रों के हवाले से खबर है कि उत्तर प्रदेश सहित उन पांच राज्‍यों में जहां विधानसभा चुनाव होने हैं उनके लिए बजट में कुछ भी घोषणा नहीं की जाएगी। उत्तरप्रदेश के अलावा पंजाब, उत्तराखंड, गोवा व मणिपुर में भी विधानसभा चुनाव हो रहा है।

मालूम हो पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव से पहले एक फरवरी को केंद्रीय बजट पेश किये जाने पर आपत्ति जताते हुए विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग का रुख किया था और आयोग से मांग की कि वह सरकार से आठ मार्च को होने वाले अंतिम चरण के मतदान तक इस वार्षिक प्रक्रिया को स्थगित करने को कहे।

विपक्ष का कहना है कि बजट में कुछ लोकलुभावन घोषणाएं कर सरकार वोटरों को प्रभावित कर सकती है। इस संबंध में विपक्ष ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को भी पत्र लिखा था और साथ ही सुप्रीम कोर्ट में भी याचिका दायर की गयी थी।

विपक्षी दलों के एक प्रतिनिधिमंडल ने बजट की प्रस्तुति को आठ मार्च तक स्थगित करने के लिए सरकार को निर्देश देने की अपनी मांग को लेकर मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी से मुलाकात की थी। इस प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस, जदयू, बसपा, सपा, द्रमुक और राजद नेता शामिल थे।

राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने चुनाव आयुक्त से भेंट के बाद संवाददाताओं को बताया, ‘‘वर्ष 2012 में इन पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव को लेकर विपक्षी दलों की आपत्ति के बाद कांग्रेस ने केंद्रीय बजट 28 फरवरी की बजाय 16 मार्च को पेश किया था। हम चाहते हैं कि चुनावों के खत्म होने तक बजट नहीं पेश किया जाना चाहिए।’

TOPPOPULARRECENT