Monday , December 18 2017

पहले मुल्क, फिर बेटा : जाबिर

पटना बलास्ट के मुल्ज़िम मुजीबुल अंसारी के वालिद जाबीर अंसारी ने कहा कि सबसे पहले मुल्क है, फिर मेरा बेटा है। अगर मेरा बेटा मुजरिम साबित होता है, तो हम इंतेजामिया की मदद करने के लिए तैयार हैं। जाबीर अंसारी चकला इदगाह अहाते में मुनक्

पटना बलास्ट के मुल्ज़िम मुजीबुल अंसारी के वालिद जाबीर अंसारी ने कहा कि सबसे पहले मुल्क है, फिर मेरा बेटा है। अगर मेरा बेटा मुजरिम साबित होता है, तो हम इंतेजामिया की मदद करने के लिए तैयार हैं। जाबीर अंसारी चकला इदगाह अहाते में मुनक्कीद गाँव के लोगों की बैठक में बोल रहे थे।

दहशतगर्द को जड़ से मिटाने का लिया अहद

दहशतगर्द को जड़ से मिटाने की अहद लेने और ओरमांझी की पुरानी रिवायत को बनाये रखने को लेकर एक बैठक चकला मदरसा में हुई। बैठक की सदारत गांव के सदर अबुल अंसारी ने की। बैठक में ब्लॉक के तमाम तबके के दानिश्वरों ने हिस्सा लिया। तमाम लोगों ने एक आवाज से कहा की दहशतगर्द किसी हाल में काबुल नहीं है। मुजरिमों को किसी सूरत में नहीं बख्शा जाएगा। साथ ही पुलिस इंतेजामिया से बेगुनाह को परेशान नहीं करने की दरख्वास्त भी किया गया।

बैठक में खुसुसि मेहमान साबिक़ एमपी रामटहल चौधरी थे। पटना बमकांड में चकला रिहायसी मुजीबुल अंसारी का नाम आने और हिंदपिडी वाक़ेय उसके लॉज के कमरा से बम बरामद होने पर गहरा गम ज़ाहिर किया गया। बैठक में सभी से आग्रह किया गया कि अगर किसी को भी मुजीबुल के सिलसिले में किसी भी तरह की जानकारी मिले तो इंतेजामिया के साथ-साथ गांव के लोगों को भी बताएं। बैठक में वीणा देवी, मुंतजीर अहमद रजा, मुखिया बल्लू पाहन, लक्ष्मी नारायण महतो, फर्जन अली, रजब अली, लक्ष्मण साहू , अमालुद्दीन अंसारी, जाबीर अंसारी, शैलेंद्र मिर्श, राजेंद्र शाही वगैरह थे।

TOPPOPULARRECENT