Friday , December 15 2017

पाँच रियासतों में इंतिख़ाबात के बाद कांग्रेस तन्हा हो जाएगी

कांग्रेस के विजयवाड़ा रुक्न पार्लीयामेंट लगड़ा पाटी राजगोपाल ने तेलंगाना मसअले पर ख़ुद अपनी कांग्रेस पार्टी और मर्कज़ी हुकूमत को सख़्त तन्क़ीद का निशाना बनाया और इल्ज़ाम आइद किया कि कांग्रेस पार्टी इस मसअले पर इलाक़ाई जमात जैसा

कांग्रेस के विजयवाड़ा रुक्न पार्लीयामेंट लगड़ा पाटी राजगोपाल ने तेलंगाना मसअले पर ख़ुद अपनी कांग्रेस पार्टी और मर्कज़ी हुकूमत को सख़्त तन्क़ीद का निशाना बनाया और इल्ज़ाम आइद किया कि कांग्रेस पार्टी इस मसअले पर इलाक़ाई जमात जैसा रवैया इख़्तियार कर रही है।

उन्हों ने कहा कि रियासत को तक़सीम करने का फैसला कांग्रेस की 125 साला तारीख की सब से बड़ी ग़लती है। आंध्र प्रदेश जर्नलिस्ट्स फ़ोरम के ज़ेरे एहतेमाम सहाफ़त से मुलाक़ात प्रोग्राम में हिस्सा लेते हुए राजगोपाल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी दूसरी और इलाक़ाई जमातों जैसा रवैया इख़्तियार कर रही है।

राजगोपाल मुत्तहदा आंध्र के कट्टर हामी हैं। उन्हों ने कहा कि कांग्रेस पार्टी सिर्फ़ सयासी मुफ़ादात के लिए रियासत को तक़सीम करने का फैसला कर रही है। उन्हों ने इल्ज़ाम आइद किया कि कांग्रेस ने एक तरफ़ तो अलैहदगी पसंद जमात टी आर एस से साज़-बाज़ कर लिया है और दूसरी तरफ़ वो जगन मोहन रेड्डी से भी हाथ मिला रही है।

रियासत की तक़सीम के ताल्लुक़ से पार्टी के फैसले का इल्म होने पर वो लज़हन में पड़ गए हैं। उन्हों ने सवाल किया कि आया रियासतों की तक़सीम के ताल्लुक़ से मुल्क में कोई क़ौमी पॉलीसी भी है या नहीं? कई जमाअतें पाँच रियासतों में इंतिख़ाबात के बाद कांग्रेस से दूरी इख़्तियार कर लेगी।

उन्हों ने इस ख़्याल का इज़हार किया कि अवाम ये मानते हैं कि रियासत को तक़सीम करने के लिए कांग्रेस पहली मुल्ज़िम है इस के बाद तेलुगु देशम और वाई एस आर कांग्रेस भी बराबर के ज़िम्मेदार हैं। उन्हों ने इस यक़ीन का इज़हार किया कि पार्लीयामेंट के सरमाई इजलास में तेलंगाना बिल पेश नहीं किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT