Sunday , December 17 2017

पाकिस्तानी कबाइली इलाक़ा फ़ौजी कार्रवाई की तरदीद

पाकिस्तान ने आज कहा कि भरपूर पैमाना की शोर्शज़दा कबाइली इलाक़ों में फ़ौजी कार्रवाई करने का कोई फ़ैसला नहीं किया गया है। क़ब्लअज़ीं इस इलाक़ा में तालिबान के ख़िलाफ़ फ़िज़ाई हमले किए गए थे। वज़ीरे दाख़िला पाकिस्तान चौधरी निसार अली ख़ान ने कह

पाकिस्तान ने आज कहा कि भरपूर पैमाना की शोर्शज़दा कबाइली इलाक़ों में फ़ौजी कार्रवाई करने का कोई फ़ैसला नहीं किया गया है। क़ब्लअज़ीं इस इलाक़ा में तालिबान के ख़िलाफ़ फ़िज़ाई हमले किए गए थे। वज़ीरे दाख़िला पाकिस्तान चौधरी निसार अली ख़ान ने कहा कि कबाइली इलाक़ा में कोई फ़ौजी कार्रवाई नहीं की जा रही है और हुकूमत की जानिब से इस किस्म का कोई फ़ैसला नहीं किया गया है।

उन्हों ने क़ौमी असेंबली में तक़रीर करते हुए कहा कि तमाम दस्तयाब ज़राए दहश्तगर्दी से निमटने के लिए इस्तेमाल किए जाऐंगे क्योंकि ये इंतिहाई संगीन मसअला है।

हुकूमत ने हाल ही में ममनूआ तहरीके तालिबान पाकिस्तान के साथ अमन मुज़ाकरात मुअत्तल कर दिए हैं क्योंकि 2010 में अग़वा किए हुए 23 फ़ौजीयों का तालिबान ने सर क़लम कर दिया था। क़ौमी सयान्ती पालिसी की चहारशंबा के दिन पार्लीयामेंट में नक़ाब कुशाई की जाएगी, जिस के तहत दाख़िली सलामती नेटवर्क के इस्तिहकाम के लिए 32 अरब रुपये मुख़तस किए गए हैं।

उन्हों ने तमाम सूबों के दरमयान दहश्तगर्दी से निमटने में अज़ीम तरीन तआवुन की ज़रूरत पर ज़ोर दिया और कहा कि मर्कज़ी हुकूमत हर महीना मुशतर्का इजलास मुनाक़िद करती रहेगी।

TOPPOPULARRECENT