पाकिस्तानी क्रिकेटर ने हिंदुस्तानी लड़की की मुहब्बत में वतन छोड़ा

पाकिस्तानी क्रिकेटर ने हिंदुस्तानी लड़की की मुहब्बत में वतन छोड़ा
इमरान ताहिर को बहुत सारे लोग इस आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए खेलने वाले खिलाड़ी के तौर पर जानते होंगे और बहुत से लोग उन्हें जुनूबी अफ्रीका के लेग स्पिनर के तौर पर जानते होंगे, लेकिन बहुत कम लोग यह जानते होंगे कि वह अपनी मोह

इमरान ताहिर को बहुत सारे लोग इस आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए खेलने वाले खिलाड़ी के तौर पर जानते होंगे और बहुत से लोग उन्हें जुनूबी अफ्रीका के लेग स्पिनर के तौर पर जानते होंगे, लेकिन बहुत कम लोग यह जानते होंगे कि वह अपनी मोहब्बत की तलाश में पाकिस्तान से साउथ अफ्रीका पहुंच गए.

दरअसल, 1998 में इमरान ताहिर पाकिस्तान अंडर-19 टीम के साथ साऊथ अफ्रीका के दौरे पर गए थे. उसी दौरे पर वह साउथ अफ्रीका में सेटल्ड एक हिंदुस्तानी नस्ल की लड़की सुमैय्या दिलदार को अपना दिल दे बैठे. फिर मोहब्बत का जूनून इस कदर हावी था कि 2006 में ताहिर ने साऊथ अफ्रीका शिफ्ट होने का फैसला कर लिया. सुमैय्या से शादी के बाद इमरान ताहिर को एक बेटा है, जिसका नाम उन्होंने गिबरान रखा है.

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्यू में इमरान ताहिर ने कहा कि पहले कुछ साल साउथ में बड़े जद्दो ज़हद रहे. उन्होंने कहा कि उनके दोस्त और जुनूबी अफ्रीका की घरेलू टीम के खिलाड़ी गुलाम बोदी से उन्हें काफी मदद मिली.

साउथ अफ्रीका शिफ्ट होने के बाद ताहिर ने वहां घरेलू क्रिकेट खेलना शुरू किया. घरेलू मैचों में मुसलसल अच्छा मुज़ाहिरा करने का फल उन्हें मिला और 2011 में पहली बार उनको साऊथ अफ्रीका के लिए खेलने का मौका मिला.

Top Stories