Monday , January 22 2018

पाकिस्तानी टीम इंतिख़ाब में इख़तिलाफ़ात वाटमोर और इक़बाल क़ासिम के ताल्लुक़ात में दराड़ कराची।

x

x

कराची। 14 जनवरी ग़ैर मुल्की कोच के तक़र्रुर के बाद पाकिस्तान क्रिकेट टीम के इंतिख़ाब के मुआमलात एक मर्तबा फिर ख़राब होते दिखाई दे रहे हैं। पाँच साल पहले जीफ़ लासन और उस वक़्त के चीफ़ स्लैक्टर सलाह उद्दीन सल्लू के बीच‌ होने वाली शदीद नौईयत की झड़प के बाद अब डेव वाटमोर और इक़बाल क़ासिम के बीच‌ टीम इंतिख़ाब में इख़तिलाफ़ात हैं।

दिलचस्प बात ये हैकि सलाह उद्दीन सल्लूकी स्लैक्शन कमेटी के सब से मुतहर्रिक रुकन और माज़ी के टसट फ़ासट बोलर सलीम जाफ़र इस स्लैक्शन कमेटी में भी सब से ज़्यादा बाख़बर और मुतहर्रिक हैं।2007में डाक्टर नसीम अश‌रफ़ के दौर में सलाह उद्दीन सल्लू और ऑस्ट्रेलियाई कोच जीफ़ लासन के बीच‌ पाकिस्तानी एकेडेमी में बाअज़ खिलाड़ियों के इंतिख़ाब पर सख़्त इख़तिलाफ़ात सामने आए थे और दोनों जानिब से तल्ख़ जुमलों का तबादला हुआ था।

एनी शाहिदीन का कहना है कि मुआमलात हाथापाई तक जा रहे थे लेकिन सलीम जाफ़र ने लासन और सलाह उद्दीन सल्लू के बीच बचाओ किराया।एक बार फिर एकेडेमी लाहौर ही में सिलेक्टर्स, ऑस्ट्रेलियाई कोच,कप्तान मिसबाह-उल-हक़ और टी 20 के कप्तान मुहम्मद हफ़ीज़ के सामने डट गए।

वाटमोर जिन के मुताल्लिक़ मशहूर है कि वो डिप्लोमैटिक अंदाज़ में टीम मुआमलात चलाने में शौहरत रखते हैं। उन्होंने कप्तानों के साथ मिल सिलेक्टर्स परअसरअंदाज़ होने की कोशिश की, लेकिन स्लैक्शन कमेटी ने बाअज़ खिलाड़ियों के मुआमले पर कप्तान और टीम इंतिज़ामीया की राय को नज़रअंदाज कर दिया।

इक़बाल क़ासिम ने जो अलील होने के बावजूद लाहौर गए थे उन्होंने मुशावरत के बाद जुनूबी अफ़्रीक़ा के ख़िलाफ़ टेस्ट टीम के लिए इन ही 16 खिलाड़ियों कोएहमीयत दी, जो उन की नज़र में बेहतरीन थे। सलीम जाफ़र जो गुजिशता कई स्लैक्शन कमेटीयों में सब से मुतहर्रिक स्लैक्टर हैं

उन्होंने इस मर्तबा भी टीम के इंतिख़ाब में बाअज़ खिलाड़ियों के हवाले से अपनी राय ठोस मौक़िफ़ के साथ दी। ज़राए का कहना है कि सिलेक्टर्स ने अपनी टीम पी सी बी के हवाले करदी और कहा कि वो इस का एलान करदें। ताहम चेयरमैन ज़का-ए-अशरफ़ की दानिशमंदी से स्लैकटर्ज़ को कामयाबी मिली और मुआमलात मुतास्सिर होने से बच गए।

TOPPOPULARRECENT