Thursday , December 14 2017

पाकिस्तानी डिप्लोमेट्स को टी20 मैच देखने सफर‌ की इजाज़त‌

नई दिल्ली: पाकिस्तान के कुछ डिप्लोमेट्स को टी20 वर्ल्ड कप  में अपनी टीम का मैच देखने के लिए सफर‌ की इजाज़त‌ देने से हिन्दुस्तान‌ के इनकार पर कड़वाहट और तनाव के बीच‌ नई दिल्ली ने अब ऐसा लगता है कि अपने व्यवहार में लचक पैदा  करते हुए कहा है कि पाकिस्तानी हाई कमीशन‌ के 19 मुलाज़िमों के सफर‌ के पहले ही इजाज़त दीजा चुकी है और ऐसी अधिक आवेदनों पर विचार के लिए वह तैयार है।

मंत्रालय के एक प्रवक्ता विकास सवारोप यह रिमार्क ऐसे समय सामने आया जिससे पहले पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने इसलामाबाद में हिन्दुस्तान‌ के उप हाई कमीशन‌ जे पी सिंह को तलब करते हुए दिल्ली में मौजूद पाकिस्तानी डिप्लोमेट्स  को आज और 19 मार्च को खेले जाने वाले मैच देखने के लिए कोलकाता सफर‌ की इजाज़त‌ देने से विरोध किया था।

इस दौरान पाकिस्तानी सूत्रों के अनुसार पाकिस्तानी विदेश सचिव एजाज़ अहमद चौधरी ने नेपाल के शहर पोखरह में जारी सार्क बैठक में अपने हिन्दुस्तान‌ समकक्ष से मुलाकात के दौरान इस मुद्दे को उठाया। टी। 20 वर्ल्ड  कप  में पाकिस्तानी मैचस देखने के लिए पाकिस्तान हाई कमीशन‌ के मुलाज़िमों को सफर‌ की इजाज़त‌ देने से संबंधी एक सवाल पर विकास सवारोप ने कहा कि पाकिस्तान ने प्रस्तावित सफर‌ के लिए आपसी परंपराओं और प्रक्रियाओं के अनुसार आवश्यक विवरण प्रदान नहीं किया था।

स्वारोप कहा कि ” पिछले कई दिन से चेतावनी के बावजूद सफर‌ के उद्देश्यों और विवरण नहीं बताई गईं जिसके बावजूद महल और अवसर को ध्यान में रखते हुए खीरसगाली के रूप में 19 स्वीकृतियां दी गईं और वरिष्ठ स्तरों पर पाकिस्तानी मंत्रालय उन्हें अनुमोदन से परिचित करवाया गया।

जोर दिया हैकि सर्वसम्मति शर्त पूरा किया जाए ताकि माबाक़ी अनुरोध स्वीकृतियां भी अमल में लाया जा सकता। ” हिन्दुस्तान‌ ने पिछले दिनों सात के मिनजुमला पांच पाकिस्तानी डिप्लोमेट्स  को सफर‌ परमिट नहीं दिया था क्योंकि उन्हें आईएसआई और रक्षा संस्थानों से लिंक रखने वालों के रूप में देखा जाता है।

कोलकाता के रेड्डी गारडिंस में सुपर 10 के ग्रुप‌ दो में पाकिस्तान का बांग्लादेश से मुकाबला था और 19 मार्च को इसी जगह‌ पर पाकिस्तान का आगामी मुख़ाबला हिन्दुस्तान‌ से होगा।

TOPPOPULARRECENT