पाकिस्तानी शख़्स को बर्तानिया पर मुक़द्दमा की इजाज़त मिल गई

पाकिस्तानी शख़्स को बर्तानिया पर मुक़द्दमा की इजाज़त मिल गई
एक बर्तानवी जज ने पाकिस्तान के यूनुस रहमत उल्लाह को बर्तानिया के ख़िलाफ़ अदालत से रुजू करने की इजाज़त दे दी। 2004 में अपने एक दोस्त के हमराह ज़ियारत के लिए ईराक़ में मौजूद रहमत उल्लाह को बर्तानवी फ़ौज ने ज़ेरे हिरासत लेने के बाद अफ़्ग़ानिस

एक बर्तानवी जज ने पाकिस्तान के यूनुस रहमत उल्लाह को बर्तानिया के ख़िलाफ़ अदालत से रुजू करने की इजाज़त दे दी। 2004 में अपने एक दोस्त के हमराह ज़ियारत के लिए ईराक़ में मौजूद रहमत उल्लाह को बर्तानवी फ़ौज ने ज़ेरे हिरासत लेने के बाद अफ़्ग़ानिस्तान में अमरीकी हुक्काम के हवाले कर दिया था।

वो दस साल तक ज़ेरे हिरासत रहने के बाद रवां साल रिहा हुए हैं। इन दिनों पाकिस्तान में मौजूद रहमत उल्लाह ने इल्ज़ाम लगाया है कि उन्हें ईराक़ और अफ़्ग़ानिस्तान में तशद्दुद का निशाना बनाया गया। बर्तानवी वज़ारते दिफ़ा की दलील थी कि बर्तानवी अदालतें अमरीकी फ़ौज की सरगर्मीयों से मुताल्लिक़ कोई केस नहीं सुन सकती।

ताहम, जज जॉर्ज लीगाट ने अपने फ़ैसला में कहा कि इस दलील की बिना पर किसी बर्तानवी अदालत का मुक़द्दमा ही ना सुनना आईनी ज़िम्मेदारीयों से रुगर्दानी है।

Top Stories