Wednesday , December 13 2017

पाकिस्तानी सफ़ीर हुसैन हक़्क़ानी की तलबी , मकतूब तहरीर नहीं किया गया : रहमान मलिक

वाशिंगटन २‍० नवंबर ( एजैंसीज़ ) : पाकिस्तानी सफ़ीर मुतय्यना अमरीका हुसैन हक़्क़ानी आज इस्लामाबाद के लिए रवाना होगए क्यों कि खु़फ़ीया मेमो के सिलसिला में इन से वज़ाहत तलब की गई है ।

वाशिंगटन २‍० नवंबर ( एजैंसीज़ ) : पाकिस्तानी सफ़ीर मुतय्यना अमरीका हुसैन हक़्क़ानी आज इस्लामाबाद के लिए रवाना होगए क्यों कि खु़फ़ीया मेमो के सिलसिला में इन से वज़ाहत तलब की गई है ।

उन्होंने सदर आसिफ़ अली ज़रदारी को फ़ौजी बग़ावत का अंदेशा ज़ाहिर करते हुए अमरीकी मदद तलब की थी । वज़ीर-ए-आज़म यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने कहा कि उन्हों ने हुसैन हक़्क़ानी से वज़ाहत तलब की है ।

वज़ीर-ए-दाख़िला रहमान मलिक ने कहा कि हुसैन हक़्क़ानी ने मुल़्क की ताक़तवर फ़ौज के ख़िलाफ़ अमरीकी मदद तलब करते हुए मकतूब तहरीर नहीं किया बल्कि पाकिस्तानी नज़ाद अमरीकी ताजिर के साथ मोबाईल फ़ोन पर ये बातचीत हुई है ।

उन्होंने कहा कि ये सदर या किसी सरकारी तंज़ीम की तरफ़ से मकतूब नहीं था । ये सिर्फ दो इन्फ़िरादी अश्ख़ास का एस् एम् एस् के ज़रीया राबिता है जिन में एक अमरीकी शहरी और दूसरे हमारे सफ़ीर हैं ।

हम ये मालूम कररहे हैं पहला एस् एम् एस् किस ने रवाना किया है । इस दौरान स्टेट डिपार्टमैंट ने उसे पाकिस्तान का अंदरूनी मुआमला क़रार दिया और किसी भी तबसरा से गुरेज़ किया ।

TOPPOPULARRECENT