Sunday , December 17 2017

पाकिस्तानी फ़िज़ाईया का तय्यारा ईंधन के लिए लखनऊ एय‌र पोर्ट पर उतर पड़ा

लखनऊ एक पाकिस्तानी फ़िज़ाईया का तय्यारा जिस में पाँच फ़ौजी अरकाने अमला सवार थे आज दोपहर देर गए ईंधन हासिल करने केलिए लखनऊ एय‌र पोर्ट पर उतर पड़ा। सरकारी ज़राए के मुताबिक़ हंगामी सूरत-ए-हाल की बिना पर उसे यहां उतरने की इजाज़त दी गई थी ।

लखनऊ

एक पाकिस्तानी फ़िज़ाईया का तय्यारा जिस में पाँच फ़ौजी अरकाने अमला सवार थे आज दोपहर देर गए ईंधन हासिल करने केलिए लखनऊ एय‌र पोर्ट पर उतर पड़ा। सरकारी ज़राए के मुताबिक़ हंगामी सूरत-ए-हाल की बिना पर उसे यहां उतरने की इजाज़त दी गई थी ।

ये तय्यारा रवालपिंडी से रवाना हुआ था जिसे हिन्दुस्तानी फ़िज़ाईया के फ़ौजी हवाई अड्डे चौधरी चरण सिंह एय‌र पोर्ट पर ईंधन हासिल करने केलिए उतरने की इजाज़त दी गई। ता कि वो बंगला देश के साहिली शहर चटगानग का सफ़र करसके। तक़रीबन 50 मिनट तवक्कुफ़ और ईंधन हासिल करने के बाद ये तय्यारा दुबारा परवाज़ कर गया।

ज़िला मजिस्ट्रेट राज शेखर ने पाकिस्तानी तय्यारे के हिन्दुस्तानी फ़िज़ाईया के फ़ौजी हवाई अड्डे पर उतरने की इत्तेला के बारे सवाल का जवाब देते हुए कहा कि हिन्दुस्तानी फ़िज़ाईया ने पाकिस्तानी फ़िज़ाईया की परवाज़ को उतरने की मंज़ूरी दी थी। एय‌रपोर्ट के डायरेक्टर एससी होता ने सवाल का जवाब देते हुए कहा कि ये एक टकनीकल लैंडिंग थी। और ईंधन हासिल करने के फ़ौरी बाद तय्यारा बंगला देश के साहिली शहर चटगानग रवाना होगया जो उसकी मंज़िल थी उन्होंने कहा कि तय्यारे में पाँच फ़ौजी सवार थे ताहम तय्यारे की नौईयत या इस में क्या अशीया मुंतक़िल की जा रही थीं उन के बारे में तफ़सीलात हासिल नहीं हो सकीं।

पाकिस्तानी फ़ौजी तय्यारे की हिन्दुस्तानी फ़ौजी हवाई अड्डे पर लैंडिंग एक ग़ैरमामूली वाक़िया है।

TOPPOPULARRECENT