Tuesday , December 12 2017

पाकिस्तान करेगा 439 भारतीय मछुआरों को रिहा

पाकिस्तान और भारत की द्विपक्षीय वार्ता बंद होने के बावजूद शुक्रवार को दबाव समूह ने बताया कि 439 भारतीय मछुआरे जो पाकिस्तानी जेलों में क़ैद थे उनको दो समूहों में घर पहुँचाया जायेगा। इस क़दम से पुरे मछली समुदाय में उत्साह का माहौल है कयुनकी पहला समूह क्रिसमस पर वापस भेज जायेगा।

पाकिस्तान इंडिया पीपल फोरम फॉर पीस एंड डेमोक्रेसी के प्रवक्ता जतिन देसाई ने बताया कि 220 मछुआरों को रविवार को घर भेज दिया जायेगा जबकि बाकी को 5 जनवरी 2017 को भेजा जायेगा। कयुनकी दुपक्षीय बात बील्कुल रुकी हुई है इसलिए मछुआरे को रिहा करने बहुत ज़रूरी है। देसाई का कहना है कि पीआईपीएफपीडी ने भारत सरकार से भी पाकिस्तानी मछुआरों को छोड़ने के लिए अंकुश किया है।अभी 516 भारतीय मछुआरे कराची जेल में बंद है जबकि 80 पाकिस्तानी मछुआरे गुजरात की जेल में बंद है।

भारत पाकिस्तान कैदियों की न्यायिक कमिटी जो की 2008 में गठित की गयी थी वो जल्द ही मिलने वाली है। देसाई का कहना है कि दोनों देशों को मछुआरों के संदर्भ में नो अरेस्ट पालिसी अपनानी होगी। देसाई ने आगे कहा कि दोनों देशों को जब्त की हुई मछली पकड़ने वाली नाव भी वापस करनी चाहिए कयुनकी यह उनके जीवन यापन का एक माध्यम है। देसाई ने आगे बताया कि आईपीजेसीपी हर छः महीने पर मिलती रहती थी लेकिन जबसे भारत में बीजीपी सरकार सत्ता में आई है तबसे एक बार भी बैठक नहीं हुई।

TOPPOPULARRECENT