Monday , December 11 2017

पाकिस्तान का तालिबान पर असरो रसूख़ है, मगर कंट्रोल नहीं

वज़ीरे आज़म पाकिस्तान नवाज़ शरीफ़ के मुशीर बराए ख़ारिजा उमूर सरताज अज़ीज़ का कहना है कि पाकिस्तान का तालिबान पर कुछ असरो रसूख़ है ताहम वो उन्हें कंट्रोल नहीं करता।

रेडीयो पाकिस्तान के मुताबिक़ सरताज अज़ीज़ का कहना था कि तालिबान के साथ मुज़ाकरात दोबारा शुरू करने का फ़ैसला अब अफ़्ग़ान हुकूमत को करना है और हम इस सिलसिले में महज़ सहूलतकार का किरदार अदा कर सकते हैं।

उनका कहना था कि बैनुल अक़वामी बिरादरी को अफ़्ग़ानिस्तान की सूरते हाल पर तशवीश है और कोई भी आलमी ताक़त अफ़्ग़ानिस्तान में जंग नहीं चाहती। मुशीर ख़ारिजा के मुताबिक़ पाकिस्तान और अमरीका अफ़्ग़ान हुकूमत और तालिबान के दरमयान दोबारा मुज़ाकरात शुरू होने के हामी हैं।

उन्होंने मज़ीद कहा कि अमरीका और पाकिस्तान अफ़्ग़ान मुसालहती अमल की मुकम्मल हिमायत करते हैं ताहम अब ये अफ़्ग़ान हुकूमत को फ़ैसला करना है कि वो भी यही चाहती है या नहीं। उनका कहना है कि तालिबान के साथ राबिते के हवाले से अफ़्ग़ान हुकूमत ने अभी तक पाकिस्तान के साथ कोई राबिता नहीं किया है।

TOPPOPULARRECENT