Sunday , December 17 2017

पाकिस्तान की तरक़्क़ी के लिए दहश्तगर्दी का ख़ात्मा – नवाज़ शरीफ़

पाकिस्तानी वज़ीरे आज़म मियां नवाज़ शरीफ़ क़बाइली इलाक़ों में फ़ौज के ज़र्बे अज़ब ऑप्रेशन और कराची में रेंजर्स की कार्रवाई पर काफ़ी मुतमइन हैं। उन का कहना है कि कराची में जो कार्रवाई की जा रही है, वो किसी एक जमात के ख़िलाफ़ नहीं, बल्कि पाकि

पाकिस्तानी वज़ीरे आज़म मियां नवाज़ शरीफ़ क़बाइली इलाक़ों में फ़ौज के ज़र्बे अज़ब ऑप्रेशन और कराची में रेंजर्स की कार्रवाई पर काफ़ी मुतमइन हैं। उन का कहना है कि कराची में जो कार्रवाई की जा रही है, वो किसी एक जमात के ख़िलाफ़ नहीं, बल्कि पाकिस्तान के इक़्तिसादी दारुल हुकूमत को दहश्तगर्दों, शिद्दत पसंदों, मसलकी तशद्दुद बर्पा करने वालों और ज़बरदस्ती रक़म ऐंठने वालों से महफ़ूज़ रखना है।

मियां मुहम्मद नवाज़ शरीफ़ की हुकूमत को यक़ीन है कि कराची में हालात मामूल पर आ जाएंगे, जिस के बाइस इस तारीख़ी शहर की तरक़्क़ी पसंद रवायात का अहया होगा।

जहां तक कराची का सवाल है पाकिस्तान की मईशत में ये शहर हमेशा से ही अहम रोल अदा करता रहा है, लेकिन कुछ दहों से इस शहर के अमनो अमान को तबाह करते हुए सनअतकारों, ताजिरीन और अवाम में ख़ौफ़ और दहशत की लहर पैदा करदी गई, ताहम हुकूमत ने अब बदक़माश अनासिर के ख़िलाफ़ फ़ैसलाकुन मौक़िफ़ अख़्तियार कर लिया है।

वज़ीरे आज़म मियां मुहम्मद नवाज़ शरीफ़ और फ़ौजी सरब्राह जेनरल राहील शरीफ़ ने इस अज़म का इज़हार किया है कि वो मुल्क को दहश्तगर्दों से पाक करके रहेंगे। यौमे पाकिस्तान के मौक़ा पर कई बर्सों बाद फ़ौजी प्रेड का एहतेमाम किया गया था।

TOPPOPULARRECENT