पाकिस्तान के फखर जमान वन-डे में दोहरा शतक लगाने वाले पहले पाक खिलाड़ी, इतिहास रचा

पाकिस्तान के फखर जमान वन-डे में दोहरा शतक लगाने वाले पहले पाक खिलाड़ी, इतिहास रचा
Click for full image

पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज फखर जमान ने जिम्बॉब्वे के खिलाफ इतिहास रच दिया। शुक्रवार को खेले गए चौथे एकदिवसीय मैच में जमान ने नाबाद 210 रन की पारी खेली। इसी के साथ वह पाकिस्तान की ओर से दोहरा शतक बनाने वाले पहले खिलाड़ी बन गए।

यह पाकिस्तान की ओर से वन-डे इतिहास में बनाया गया सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर भी बना। उन्होंने सईद अनवर (194 रन) का 21 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा है। सईद अनवर ने भारत के खिलाफ 1997 में चेन्नई के मैदान पर 194 रन की पारी खेली थी।

फखर जमान वनडे क्रिकेट में दोहरा शतक बनाने वाले दुनिया के छठे खिलाड़ी बन गए हैं। उनसे पहले यह कमाल भारत के रोहित शर्मा (3 बार), सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, न्यूजीलैंड के मार्टिन गुप्टिल और वेस्टइंडीज के खतरनाक बल्लेबाज क्रिस गेल कर चुके हैं।

फखर जमान की नाबाद 210 रन की यह पारी वनडे क्रिकेट की पांचवीं सबसे बड़ी व्यक्तिगत पारी बनी।ये पाकिस्तान के वनडे इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर भी साबित हुआ।

इससे पहले उनका सर्वाधिक स्कोर 385 रन था जो उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ 2010 में दांबुला के मैदान पर बनाया था। ये वनडे क्रिकेट इतिहास का 16वां सबसे बड़ा स्कोर है।

बुलवायो के क्वींस स्पोर्ट्स क्लब में खेले गए इस मुकाबले में पाकिस्तान ने टॉस जीता। अपनी टीम को शानदार शुरुआत दिलाते हुए फखर जमान और इमाम-उल-हक ने कप्तान के पहले बल्लेबाजी के फैसले को सही साबित किया।

पूरी सीरीज में कमाल का प्रदर्शन करते आ रहे फखर का बल्ला इस मैच में भी जमकर बोला। 51 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा करने वाले इस बल्लेबाज ने 92 गेंदों पर अपना शतक पूरा कर किया। इसके बाद अगले पचास रन 23 गेंदों में बनाते हुए 150 के स्कोर तक पहुंचे।

फखर यहीं नहीं रूके मेजबान गेंदबाजों की धुनाई जारी रही। 148 गेंदों पर दोहरा शतक पूरा करते ही उन्होंने इतिहास रच दिया। इस दौरान उन्होंने इमाम-उल-हक के साथ पहले विकेट के लिए रिकॉर्ड 304 रन की साझेदारी की। यह पहले विकेट के लिए वन-डे क्रिकेट इतिहास की सबसे बड़ी साझेदारी है।

156 गेंदों पर नाबाद 210 रनों की पारी के दौरान इस युवा सलामी बल्लेबाज ने 24 चौके और 5 दर्शनीय छक्के भी जड़े। इमाम ने 122 गेंदों पर 113 रन की पारी खेली, इसी के साथ पाकिस्तानी टीम निर्धारित 50 ओवर्स में 1 विकेट के नुकसान पर 399 रन का विशाल स्कोर खड़ा कर पाया और जिंबॉब्वे को जीत के लिए 400 रनों का पहाड़ सा लक्ष्य दिया।

Top Stories