Sunday , December 17 2017

पाकिस्तान को ग़ैर वाजेह मौक़िफ़ की भारी क़ीमत अदा करना होगी

मुत्तहदा अरब इमारात के वज़ीरे ख़ारिजा डॉक्टर अनवर मुहम्मद क़रक़ाश ने यमन के तनाज़े में ग़ैर जानिबदार रहने के फ़ैसले पर पाकिस्तान को ख़बरदार करते हुए कहा है कि उसे इस अहम मसले पर मुतज़ाद और मुबहम राय की भारी क़ीमत अदा करना पड़ेगी।

मुत्तहदा अरब इमारात के वज़ीरे ख़ारिजा डॉक्टर अनवर मुहम्मद क़रक़ाश ने यमन के तनाज़े में ग़ैर जानिबदार रहने के फ़ैसले पर पाकिस्तान को ख़बरदार करते हुए कहा है कि उसे इस अहम मसले पर मुतज़ाद और मुबहम राय की भारी क़ीमत अदा करना पड़ेगी।

इमाराती वज़ीरे ख़ारिजा की तंबीया सामने आने के बाद बी बी सी से बात करते हुए पाकिस्तानी दफ़्तरे ख़ारजा की तर्जुमान तसनीम असलम ने कहा है कि कि वो इस ब्यान पर तबसरा करने से क़ासिर हैं क्योंकि उन के पास इस बारे में मुकम्मल मालूमात नहीं हैं।

मुत्तहदा अरब इमारात के वज़ीरे ख़ारिजा डॉक्टर अनवर मुहम्मद क़रक़ाश ने पाकिस्तानी पार्लीमान में यमन के तनाज़े पर ग़ैर जानिबदार रहने की मुत्तफ़िक़ा क़रारदाद मंज़ूर होने के बाद जुमे की शब ट्वीटर पर अपने ब्यानात में इस फ़ैसले की मुज़म्मत की थी।

ख़लीज टाईम्स के मुताबिक़ उन्हों ने ट्वीटर पर अपने ब्यान में कहा: अरब ख़लीज इस वक़्त ख़तरनाक जंग में है, उस की स्ट्रैटेजिक सेक्युरिटी ख़तरे के दहाने पर है और इस वक़्त इस सच को वाज़ेह करना होगा कि असल इत्तिहादी कौन हैं, मीडिया और ब्यानात की हद तक रहने वाले इत्तिहादी कौन हैं

TOPPOPULARRECENT